सपा की पहली लिस्ट में 29 मुसलमानों को टिकट

सपा की पहली लिस्ट में 29 मुसलमानों को टिकट

विधानसभा चुनाव के लिए 143 प्रत्याशियों की सूची जारी 

लखनऊ: होली की खुमारी खत्म होते ही समाजवादी पार्टी ने मिशन 2017 को कामयाब बनाने के लिए एक साल पहले ही एक तिहाई से ज्यादा प्रत्याशियों की घोषणा कर चुनावी बिगुल बजा दिया है। सत्ता में वापसी की जद्दोजहद में जुटी पार्टी ने विधानसभा की 403 में से 143 सीटों पर प्रत्याशियों के नाम तय कर दिए हैं। ये वे सीटें हैं जहां पर पार्टी पिछले विधानसभा चुनाव में हार गई थी।

सपा की टिकट सूची में दो विधायक पीस पार्टी के हैं। इसके अलावा एक विधायक निर्दलीय भी है। पार्टी का कहना है कि उसने टिकाऊ व जिताऊ प्रत्याशियों को टिकट दिया है। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता व प्रदेश सरकार में कद्दावर मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने शुक्रवार को लखनऊ में अचानक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके 143 पर प्रत्याशियों की सूची घोषित कर सियासी विरोधियों को चित करने की कोशिश की है। दावा किया है कि सपा ही अगली बार फिर सरकार बनाएगी।

सूची के हिसाब से पार्टी ने मुस्लिमों का भरोसा पाने के लिए 29 मुस्लिमों को टिकट दिया है। एक प्रत्याशी सिख है। इसके अलावा 16 प्रत्याशी यादव हैं। महिलाओं को अहमियत दिए जाने की सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव की नसीहत का असर यह रहा कि इस बार नौ महिलाएं भी टिकट पा गईं हैं।

जामा मस्जिद के शाही इमाम मौलाना अहमद बुखारी के दामाद उमर अली खान को सहारनपुर की बेहट सीट से दोबारा टिकट दिया गया है। पार्टी ने पूर्व मंत्री दिवंगत राजाराम पांडेय की सीट विश्वनाथ गंज से उनके बेटे संजय पांडेय को प्रत्याशी बनाया है। पार्टी के कद्दावर नेता रहे बालेश्वर यादव के बेटे विजेंद्र पाल सिंह को टिकट दिया गया है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा मंत्री पद से हटाए गए अम्बिका चौधरी को बलिया की फेफना से टिकट दिया गया है। वह पिछला विधानसभा चुनाव जब हार गए तो उन्हें एमएलसी बना दिया गया। विधानसभा की लोक लेखा समिति के अध्यक्ष रहे व पेशे से चिकित्सक डॉ. पी के राय को कुशीनगर से टिकट दिया गया। एक चुनाव जीतने के बाद पिछला चुनाव हार गए थे।

सपा की यूथ बिग्रेड के कद्दावर नेता अतुल प्रधान को मेरठ से टिकट दिया गया है। उनकी पत्नी हाल में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनी गई हैं। क्रिकेटर ज्योति यादव को इलाहाबाद पश्चिम से दोबारा टिकट दिया गया है। इसी तरह कद्दावर नेता रेवती रमण सिंह के बेटे व निगम के अध्यक्ष उज्ज्वल रमण सिंह इलाहाबाद की करछना से फिर चुनाव लडेंगे।

पार्टी ने कमाल यूसुफ व अनीसुर्ररहमान को भी टिकट दिया है। ये दोनों पीस पार्टी से चुनाव जीते हैं। बाद में दोनों पीस पार्टी से अलग हो गए और सपा के सम्पर्क में आ गए। निर्दलीय विधायक विजय सिंह को भी टिकट दिया गया है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India