पत्रकार के सवाल पर भड़के धोनी

पत्रकार के सवाल पर भड़के धोनी

बेंगलुरु : आईसीसी विश्वकप टी20 मुकाबले में बांग्लादेश के खिलाफ एक रोमांचक मुकाबले में महज एक रन से जीत दर्ज करने वाली टीम इंडिया के कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी से जब पत्रकार ने पूछा कि भारत ने सेमीफाइनल में जाने की उम्मीद तो बरकरार रखी है, लेकिन 40 से ज्यादा रनों के अंतर से जीत दर्ज नहीं कर पायी तो जैसे-तैसे जीत दर्ज करने पर क्या कहेंगे? इस सवाल पर धोनी भड़क गये और कहा कि लगता है आप टीम इंडिया की जीत से खुश नहीं हैं। आपके भाव और सवाल से लगता है कि आप खुश नहीं है कि हम जीत गए हैं। धोनी ने कहा कि क्रिकेट में पहले से कुछ भी नहीं कहा जा सकता। मैदान पर सभी निर्णय लेने होते हैं और हालात के हिसाब से काम करना होता है।

इससे पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इस जीत से काफी खुश थे और उन्होंने अपने गेंदबाजों की जमकर तारीफ की जिन्होंने तनाव के समय धैर्य बरकरार रखा। जसप्रीत बुमराह ने 19वें ओवर में सिर्फ छह रन दिए जबकि पंड्या ने अंतिम तीन गेंद तीन विकेट झटककर भारत को शानदार जीत दिलाई। धौनी ने कहा, ‘बुमराह ने काफी अच्छी गेंदबाजी की सिवाय दूसरे ओवर को छोडकर (जिसमें चार चौके लगे) पहली गेंद पर मिसफील्ड और फिर कैच छोडने के कारण वह दबाव में आ गया था जिसके कारण ऐसा हुआ।' पंड्या ने अंतिम ओवर करने में काफी समय लिया और इस दौरान धौनी उन्हें लगातार सलाह देते रहे।

धोनी ने कहा, ‘मैं यहां सब कुछ नहीं बताना चाहता। मुझे पता था कि 20वां ओवर शुरू होने के बाद आप चाहे जितना मर्जी समय लो आप पर जुर्माना नहीं लग सकता। पंड्या और मेरे बीच लाइन और लेंथ तथा क्षेत्ररक्षण को लेकर बात हुई।' महमूदुल्लाह (18) काफी अच्छा खेल रहे थे लेकिन वह अंतिम ओवर में पांचवीं गेंद को हवा में खेलकर रविंद्र जडेजा को कैच दे बैठे जबकि यह फुलटॉस थी। धौनी ने इस संदर्भ में कहा, ‘वह बडा शॉट खेलकर मैच खत्म करना चाहता था। वह अपनी टीम के लिए काम खत्म करना चाहता था और अगर यह छक्का चला जाता तो शानदार शॉट होता। यह उसके लिए सीखने के लिहाज से महत्वपूर्ण है।'