विदेशों में 11 लाख करोड़ रुपये का जमा है काला धन!

विदेशों में 11 लाख करोड़ रुपये का जमा है काला धन!

नई दिल्ली: एक नये रिपोर्ट से टैक्स हैवेन देशों में भारतीयों द्वारा कालाधन छिपाने और अवैध रूप से विदेशों में संपत्ति रखने का चौकाने वाला खुलासा हुआ है। अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, बैंक ऑफ इटली के सीनियर अर्थशास्त्री ने काला धन पर एक खुलासा किया। 

रिपोर्ट के अनुसार, भारतीयों ने विदेशों में 152-181 अरब डॉलर यानी करीब 9 से 11 लाख करोड़ रुपये का काला धन (ब्लैक मनी) जमा कर रखा है। दुनिया में 6 से 7 खरब डॉलर काला धन मौजूद है। रिपोर्ट में कहा गया है कि ये काला धन शेयरों, कर्ज और बैंक डिपॉजिट के जरिए जमा किया गया है। इसके अलावा रियल एस्टेस, सोना और अन्य चीजों की खरीदारी में जो पैसा निवेश किया गया है, उसके आंकड़े जुटाना संभव नहीं है।

हाल ही में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने काला धन रखने वालों को लेकर कड़ा रुख अपनाया है। उन्होंने कहा है कि 4 महीने की अनुपालन खिड़की बंद होने के बाद जो भी लोग पकड़े जाएंगे उन्हें बेहिसाबी धन पर 90% तक टैक्स देना होगा और साथ ही जुर्माना भी लगेगा। इसके साथ ही यह बात भी सामने आई है कि अघोषित संपत्ति की घोषणा न करने वाले लोगों पर 7 साल तक की सजा भी हो सकती है। 

इससे पहले वित्त मंत्री ने घरेलू कालाधन रखने वालों के लिए सीमित अवधि की अनुपालन खिड़की की सुविधा दी थी। उसके अनुसार वह किसी भी तरह से किसी माफी योजना के रूप में काम नहीं करने वाली है। साथ ही उन्होंने यह भी बताया था कि बेहिसाब धन की घोषणा करने वाले लोगों को यहां 45% टैक्स देना ही होगा। सामान्य टैक्स की दर वर्तमान में 30% पर बनी हुई है। 

अघोषित आय और संपत्ति की घोषणा करने वालों के लिए यह खिड़की 1 जून से खोली जाएगी। जबकि इसको लेकर यह भी कहा जा रहा है कि माफी योजना में आप सिर्फ टैक्स अदा करते हैं और साफ सुथरी छवि पा सकते है। इसके साथ ही आप इसका उपयोग कर मुकदमे से भी बच सकते हैं।