हमारा देश सिर्फ हिंदी, हिन्दू, हिंदुस्तान नहीं इंडिया: थरूर

हमारा देश सिर्फ हिंदी, हिन्दू, हिंदुस्तान नहीं इंडिया: थरूर

नई दिल्ली: जेएनयू में देशद्रोह और राष्ट्रभक्ति पर चल रही देशव्यापी बहस के बीच बीती रात कांग्रेस सांसद शशि थरूर छात्रों के बीच 40 मिनट तक बोले। उन्होंने केंद्र की भाजपा सरकार के राष्ट्रवादिता पर हमला करते हुए कहा, क्‍या अब जो भारत माता की जय बोलेगा सिर्फ वही देशभक्त होगा।

छात्रों के बीच बोलते हुए थरूर ने कहा, देश को आज कान्हा की भी जरूरत है और कन्हैया की भी जरूरत है। उनका इशारा जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार की ओर था। थरूर के इस बयान के बाद सोशल मीडिया से लेकर राजनीतिक गलियारों में हवा तेज है कि कन्हैया कांग्रेस में शामिल हो सकता है।

थरूर ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा, लोगों के पास चुनाव का अधिकार होना चाहिए कि वो अपनी सोच और विचार के साथ लोकतंत्र में रहे सकें। आज देशभक्त का पैमाना भारत माता की जय बोलने वाले के तौर पर हो रहा है। मुझे भी खुशी होती है इसको बोलते हुए लेकिन मैं किसी और को ये कहने के लिए बाध्य नहीं कर सकता।

थरूर ने कहा, हमारा देश सिर्फ हिंदी, हिंदू और हिन्दुस्तान नहीं है। हमारे देश को इंडिया कहा जाता है, ये विविधता को स्वीकार करता है और इसी का इतिहास गवाह रहा है। हम चाहते हैं कि भारत कृष्ण और कन्हैया कुमार दोनों के साथ हो। देश के हर कोने पर रहने वाला अपने भविष्य को लेकर आश्वस्त हो।

India