मैं हिंदुत्व को नहीं मानता: दिग्विजय

मैं हिंदुत्व को नहीं मानता: दिग्विजय

नई दिल्ली। विवादित बयानों के चलते अक्सर चर्चा में रहने वाले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने एक और विवादास्पद बयान दिया है। दिग्विजय ने कहा कि "हिंदुत्व कोई शब्द नहीं है और न ही मैं हिंदुत्व को मानता हूं। मैं सनातन धर्म का पालन करने वाला व्यक्ति हूं। सनातन धर्म के अनुयायी के रूप में ही मैं अपना परिवार चलाता हूं।" उन्होंने यह बात वाराणसी में कही।

दिग्विजय ने यह बात तब कही जब उनसे राम मंदिर के बारे में सवाल पूछा गया। वह यहां वाराणसी स्थित विद्यामठ में शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती से मिलने गए थे। इसके बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान दिग्विजय ने खुद को सनातन धर्मी बताया।

दिग्विजय ने शनि शिंगणापुर मंदिर में महिलाओं के पूजा करने पर रोक को गलत बताते हुए कहा कि, "किसी भी मंदिर में कोई रोक-टोक नहीं होनी चाहिए। महिला या पुरुष सभी मंदिर में जा सकते हैं। जिस किसी की भी आस्था धर्म में हो वह मंदिर जा सकता है।"

दिग्विजय ने राहुल गांधी का पक्ष लेते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के हैदराबाद यूनिवर्सिटी कैंपस में भूख हड़ताल पर बैठने की तारीफ की। उन्होंने कहा कि "बीजेपी और संघ एबीवीपी के जरिए शिक्षण संस्थाओं पर कब्जा करना चाहते हैं। ये गरीब और दलित विरोधी हैं इसलिए राहुल के उपवास पर सियासत कर रहे हैं।"

India