सैयद मोदी बैडमिंटन: कश्यप बाहर, श्रीकांत सेमीफाइनल में

सैयद मोदी बैडमिंटन: कश्यप बाहर, श्रीकांत सेमीफाइनल में

लखनऊ: मौजूदा चैंपियन पी कश्यप का सैयद मोदी इंटरनेशनल ग्रां प्री में लगातार दूसरी बार खिताब जीतने का सपना शुक्रवार को क्वार्टरफाइनल में हार के साथ टूट गया, जबकि शीर्ष वरीय खिलाड़ी के श्रीकांत को अगले दौर में जगह बनाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

पिछले साल खिताब जीतने वाले कश्यप को गैरवरीय चीनी खिलाड़ी हुआंग यूझियांग ने 16-21, 21-18, 21-15 से हराकर खिताब की रक्षा करने की उनकी उम्मीदों को जमींदोज करके टूर्नामेंट का दूसरा उलटफेर किया।

महिला एकल वर्ग में खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही स्टार भारतीय खिलाड़ी पीवी सिंधु को भी उलटफेर का शिकार होना पड़ा था।

इससे पूर्व, शीर्ष वरीय श्रीकांत को मलेशिया के सून हुआत गोह के खिलाफ एक घंटा और 15 मिनट तक चला मुकाबला 21-17, 18-21, 24-22 से जीतने के लिये काफी मेहनत करनी पड़ी।

लखनउ स्थित बीबीडी एकेडमी में खेले गये क्वार्टर फाइनल मुकाबले में चौथी वरीय कश्यप पर इस महत्वपूर्ण मैच का दबाव साफ नजर आ रहा था। हालांकि पहले गेम में उन्हें ज्यादा परेशानी नहीं हुई, जिसे उन्होंने 21-16 से जीता लेकिन दूसरे गेम में चीनी खिलाड़ी ने वापसी की और अपने जोरदार शॉट्स से अपने भारतीय खिलाड़ी को कई बार चौंकाया। इस जोरदार गेम को यूझियांग ने 21-18 से जीतकर मुकाबले को तीसरे गेम में पहुंचा दिया।

तीसरे और निर्णायक गेम में भी चीनी खिलाड़ी ने तेजी दिखाते हुए कश्यप को कई बार बेबस किया और कई अंक हासिल करते हुए तेजी से आगे बढ़े। हालांकि कश्यप ने वापसी की लेकिन ज्यादातर वक्त तक यूझियांग का ही दबदबा रहा। उनके शानदार खेल के आगे कश्यप लाचार नजर आये और आखिरकार इस गेम 15-21 की हार के साथ उनका अभियान थम गया।

तीसरे गेम तक खिंचे मैच का यह अंतिम गेम रोमांच की पराकाष्ठा तक पहुंचा। मलेशियाई खिलाड़ी ने श्रीकांत के कौशल की कड़ी परीक्षा ली और कई मौकों पर ऐसा लगा कि सिंधु की सनसनीखेज हार के बाद अब दूसरा उलटफेर होने जा रहा है, लेकिन श्रीकांत ने अपनी नब्ज पर काबू रखते हुए आगे कोई गलती नहीं की और इस गेम को 24-22 के नजदीकी अंतर से जीतकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया।

महिला युगल वर्ग में भारत की चुनौती को आगे बढ़ा रही ज्वाला गट्टा और अश्विनी पोनप्पा की छठी वरीयता प्राप्त जोड़ी ने थाईलैंड की पुट्टिका सुपाजिराकुल और सैपसिरी तायरत्तनाचाय की जोड़ी को लगातार गेम में 23-21, 21-17 से हराकर अंतिम चार में जगह बना ली है। पुरुष एकल के अन्य मुकाबलों में 11वीं वरीयता प्राप्त थाईलैंड के बूनाक पोनसाना ने मलेशिया के जुल्फाफली को 21-17, 21-19 से हराकर अंतिम चार में जगह बना ली।

एक अन्य मुकाबले में चीन के शी युकी भारत के हर्षील दाणी को 21-14, 21-11 से हराकर सेमीफाइनल में पहुंच गये।

महिला एकल वर्ग में दूसरी वरीय कोरिया की सुंग जी हयन ने छठी वरीयता प्राप्त यूई हशिमोतो को 21-19, 21-13 से पराजित करके सेमीफाइनल में जगह बना ली।

एक अन्य मुकाबले में पांचवीं वरीयता प्राप्त जापान की सयाका सातो ने इंडोनेशिया की मारिया फेबे कुसुमसतुति को 21-9, 21-3 से हराया।