सदन की गरिमा बनाये रखें

सदन की गरिमा बनाये रखें

राज्यपाल ने सभी राजनैतिक दलों के नेता सदन को पत्र भेजा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने राज्य विधान परिषद तथा विधान सभा के प्रमुख राजनैतिक दलों के नेता सदन को पत्र भेजा है। राज्यपाल ने अपने पत्र में कहा है कि जैसे संसद में माननीय राष्ट्रपति का अभिभाषण सांसदों द्वारा संयत और शान्त मन से श्रवण किया जाता है उसी प्रकार विधान सभा एवं विधान परिषद के संयुक्त अधिवेशन में उनका अभिभाषण बिना किसी व्यवधान के, शान्त एवं संयत मन से श्रवण किया जाय। उन्होंने अपने पत्र में यह भी कहा है कि विभिन्न राजनैतिक दलों के नेता अपने दलों के सदस्यों के साथ सदन की गरिमा बनाये रखते हुए सदन चलाने में सहयोग करें। 

श्री नाईक ने राष्ट्रपति सचिवालय से विधान परिषद एवं विधान सभा के संयुक्त अधिवेशन के निमित्त जो नये प्रोटोकाल नियम प्राप्त हुए हैं, की प्रति भी सभी को भेजी है।  

वरिष्ठ पत्रकार आबिद सुहैल के निधन पर जताया दुःख 

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने वरिष्ठ पत्रकार एवं साहित्यकार श्री आबिद सुहैल के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है।

राज्यपाल ने अपने शोक सन्देश में कहा है कि श्री आबिद सुहैल ने उर्दू साहित्य और अंग्रेजी पत्रकारिता में बहुमूल्य योगदान दिया तथा नये प्रयोग की भी बड़ी सफलता से शुरूआत की। वे कई प्रतिष्ठित समाचार पत्रों से जुडे़ रहे तथा उन्हें अनेक सम्मान भी प्राप्त हुए। उन्होंने कहा कि श्री सुहैल का निधन साहित्य एवं पत्रकारिता क्षेत्र की अपूर्णनीय क्षति है।

श्री नाईक ने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति हार्दिक संवेदना व्यक्त की है

Lucknow, Uttar Pradesh, India