यूपी की जनता राहुल के झांसे में नहीं आने वाली: आजम खान

यूपी की जनता राहुल के झांसे में नहीं आने वाली: आजम खान

रामपुर। उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी सरकार के कद्दावर मंत्री आजम खान ने रविवार को दावा किया कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को राज्य की जनता गंभीरता से नहीं लेती। अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में मशगूल गांधी पर निशाना साधते हुए खान ने कहा कि वह चाहे जितनी कोशिश कर लें, राज्य की जनता उनके झांसे में आने वाली नहीं है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष के बुंदेलखंड दौरे का मखौल उडाते हुए खान ने कहा, वह आजकल बहुत मेहनत कर रहे हैं और काफी थक जाते हैं। इसलिए उन्हें अपने साथ थोड़ी लैमन ड्रॉप और टॉफियॉ वगैरह ले जाना चाहिए। उन्होने कहा कि आम जनमानस में गांधी की छवि इस तरह की बनी हुई है कि उन्हे कोई गंभीरता से नहीं लेता। पिछले शुक्रवार को डॉ. अंबेडकर विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में हैदराबाद के दलित छात्र की आत्महत्या का जिक्र करने के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के भावुक होने निशाना साधते हुए मंत्री ने कहा कि मोदी को गुजरात, मुजफ्फरनगर और दादरी के मामले पर भी भावुक होना चाहिए था।

उन्होने कहा कि भावुकता का मापदंड एक होना चाहिए क्योंकि वह सबके प्रधानमंत्री हैं। अभिव्यक्ति की आजादी तो खत्म नहीं की जा सकती। दलित छात्र को आत्महत्या के लिए उकसाने वाले लोगों पर कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए। नेताजी

सुभाष चन्द्र बोस के बारे में पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के पत्र के खुलासे का जिक्र करते हुए खान ने कहा कि नेहरूजी द्वारा नेताजी को युद्ध अपराधी कहा जाना अफसोसजनक है। इसकी जितनी निंदा की जाए कम है।