भारत पूरी दुनिया के लिए आशा और विश्‍वास का स्रोत है: पीएम

भारत पूरी दुनिया के लिए आशा और विश्‍वास का स्रोत है: पीएम

चंडीगढ़: चंडीगढ़ में पीएम नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्‍ट्रपति फ्रांस्‍वा ओलांद ने इंडिया-फ्रांस बिजनेस समिट को संबोधित किया। बिजनेस समिट में पीएम मोदी ने कहा, 'महान ली कॉरबुजियर के बनाए इस शहर में राष्‍ट्रपति ओलांद का स्‍वागत कर खुशी हुई। मुझे पिछले वर्ष राष्‍ट्रपति ओलांद से 5 बार मिलने का मौका मिला।'

पीएम ने कहा, 'भारत पूरी दुनिया के लिए आशा और विश्‍वास का स्रोत है। भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्‍यवस्‍था है। हमारे पास आपके उत्‍पादों के लिए श्रम के साथ ही बाजार भी है। हमारी रणनीतिक साझेदारी केवल पेरिस और दिल्‍ली के बीच नहीं है, ये आप सभी के साथ भी है।'

पीएम मोदी ने फ्रांस के राष्‍ट्रपति ओलांद से कहा, आपका चंडीगढ़ से एक स्‍वभाविक नाता है। पीएम मोदी ने कहा, 'भारत के साथ मिलकर काम करने को लेकर राष्‍ट्रपति ओलांद का उत्‍साह और उनकी प्रतिबद्धता उनके किसी भी शब्‍द से बढ़कर है। उन्‍होंने क्‍लाइमेट जस्टिस जैसे मुद्दे उठाने, लंबे चिरस्थायी जीवनशैली आदि के लिए भारत को काफी श्रेय दिया है। उन्‍होंने मेरे लिए एक बैठक स्‍थगित कर दी, मुझे भरोसे में लिया और तब जाकर परिणाम की घोषणा की। यह एक बेमिसाल कदम था। पीएम मोदी ने कहा कि इंसानियत के दुश्‍मनों के खिलाफ लड़ाई में दोनों देश साथ हैं।

फ्रांस के राष्‍ट्रपति ने बिजनेस समिट को संबोधित करते हुए कहा, यह एक असाधारण दौरा है। पहली बार ऐसा होगा कि फ्रांस की सेना की टुकड़ी भारत के गणतंत्र दिवस परेड में हिस्‍सा लेगी। दोनों देश मिलकर काम करेंगे और में यहां दोनों की सझोदारी को और मजबूत करने आया हूं। मेरे भारत दौरे के दो मुख्‍य उद्देश्‍य हैं, भारत के साथ ठोस रणनीतिक साझेदारी और पीएम मोदी के फ्रांस दौरे के दौरान लिए गए फैसलों को अमलीजामा पहनाना।

India