आॅन लाइन जारी होंगे सूचना विभाग के विज्ञापन: आशुतोष निरंजन

आॅन लाइन जारी होंगे सूचना विभाग के विज्ञापन: आशुतोष निरंजन

तैयार किया जा रहा है वेब पोर्टल, मिलेगी विज्ञापन सम्बंधित सारी जानकारी

लखनऊ: समाचार पत्र, पत्रिकाओं में विज्ञापन निर्गत करने और उसके भुगतान का कार्य आॅन लाइन करने की प्रक्रिया सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के लखनऊ स्थित मुख्यालय में चल रही है और जल्दी ही विज्ञापन का कार्य आॅन लाइन कर दिया जाएगा। इसके लिए सूचना विभाग का विज्ञापन पोर्टल तैयार किया जा रहा है। विज्ञापन को प्रकाशित कराने तथा उसके भुगतान का कार्य आॅन लाइन होने पर समाचार पत्र, पत्रिकाओं के सम्पादक, मुद्रक अथवा प्रकाशक को उनके मोबाइल पर एसएमएस से विज्ञापन के आरओ की जानकारी दे दी जाएगी। 

यह जानकारी सूचना निदेशक आशुतोष निरंजन ने आज यहाॅ दी। उन्होंने सोमवार को सूचना निदेशालय में विज्ञापन पोर्टल की समीक्षा करते हुए उसमें कुछ संशोधनों के निर्देश देने के बाद कहा कि जितनी जल्दी हो इस पोर्टल को चालू कर दिया जाए। इस पोर्टल के जरिए समाचार पत्र, पत्रिका के सम्पादक, मुद्रक अथवा प्रकाशक सीधे सूचना विभाग के पोर्टल से अपने आरओ स्वयं डाउनलोड कर लेंगे और इस पोर्टल पर प्रस्तुत विज्ञापन को डाउनलोड कर प्रकाशित कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि इसी प्रकार भुगतान के लिए भी समाचार पत्र, पत्रिकाएं अपने भुगतान के बिल भी उसी पोर्टल पर अपलोड करेंगे और उन्हें भुगतान सीधे उनके खाते में पहुंचा दिया जाएगा। भुगतान के लिए आॅन लाइन बिल अपलोड करने के बाद इसकी एक प्रति एक निश्चित अवधि में सूचना निदेशालय में भी प्रस्तुत करनी होगी। 

श्री निरंजन ने बताया कि सभी समाचार पत्र पत्रिकाओं को इस विज्ञापन पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा जिसमें उन्हें अपना विवरण भरना होगा। इसमें मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और बैंक अकाउंट की डिटेल होंगी। उन्होंने बताया कि डीएवीपी, यूपीआईडी में विज्ञापन के लिए सूचीबद्ध समाचार पत्र, पत्रिकाओं के लिए भी इस पोर्टल में एक आप्शन दिया जाएगा। श्री निंरजन ने बताया कि समाचार पत्र, पत्रिकाओें की ओर से जो विवरण रजिस्ट्रेशन में दिया जाएगा उसी के अनुसार विज्ञापन से सम्बंधित जानकारी भी एसएमएस से भी जाएगी। 

सूचना निदेशक ने समाचार पत्र पत्रिकाओं से अनुरोध किया है कि सूचना विभाग के विज्ञापन पोर्टल के चालू होने से पहले पुराने बिल तथा लंबित आरओ आदि की समस्त औपचारिकताएं पूरी करने के लिए यदि कोई प्रपत्र विभाग में जमा करना हो तो आगामी 25 जनवरी तक अवश्य जमा कर दें। उन्होंने सभी समचार पत्र पत्रिकाओं के स्वामियों से अपील की है कि विज्ञापन को आॅन लाइन करने की प्रक्रिया में सहयोग दें ताकि विज्ञापन के लिए समाचार पत्र, पत्रिकाओं के सम्पादक अथवा प्रकाशक आदि को सूचना निदेशालय के चक्कर न काटने पड़ें।

श्री निरंजन ने कहा कि सूचना विभाग से जारी होने वाले विज्ञापनों की समुचित डीपीआई वाली साफ्ट काॅपी इसी पोर्टल पर उपलब्ध होगी जिसे आरओ के साथ डाउनलोड किया जा सकेगा। इसके अलावा समस्त समाचार पत्र पत्रिकाओं का डेटा बेस भी इसी साफ्टवेयर पर उपलब्ध होगा। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India