सस्ते सेनेटरी नैपकिनों का उत्पादन महिलाओं के लिए वरदान: डिम्पल यादव

सस्ते सेनेटरी नैपकिनों का उत्पादन महिलाओं के लिए वरदान: डिम्पल यादव

लखनऊ: स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अंतर्गत प्रदेश सरकार की अभिनव योजना 'सेनेटरी नैपकिन उत्पादन कार्यक्रम' का शुभारम्भ 5 कालिदास मार्ग पर डिम्पल यादव सांसद कन्नौज द्वारा किया गया। इस अवसर पर उदगार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि महिलाओं एवं किशोरियों के स्वास्थ्य की दिशा में उत्तर प्रदेश आज एक आविष्कारिक पहल करते हुए सस्ते मूल्य पर सेनेटरी नेपकिन का उत्पादन करने वाला प्रदेश बन गया हैए जहाँ लगभग चालीस से अधिक जनपदों के पंचायत उद्योगों में स्वयं महिलाओं द्वारा उत्पादन प्रारंभ कर दिया गया है।  इस कार्यक्रम से एक ओर जहाँ महिलाओं एवं किशोरियों में स्वच्छता की आदत बनेगी जिससे उनको होने वाली बीमारियों में कमी आएगी साथ ही साथ निर्बल आय वर्ग की महिलाओं को रोजगार के अवसर भी प्राप्त  होंगे । 

चंचल कुमार तिवारी प्रमुख सचिव पंचायतीराज ने जानकारी देते हुए अवगत कराया कि आज की तारीख में लगभग २८००० सेनेटरी नेपकिन का उत्पादन प्रतिदिन किया जा रहा है। माह में लगभग ५ लाख पीस एवं योजना के प्रारंभ से अब तक लगभग २० लाख सेनेटरी नेपकिन के पीस उत्पादित किये जा चुके हैं प् जहाँ तक विभागीय बिक्री की बात है तो मै बताना चाहूँगा कि जेलों में निरुद्ध महिलाओं के लिए कारागार विभाग द्वारा लगभग ३८०००, बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा लगभग ७००००, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा २.५ लाख सेनेटरी नेपकिन क्रय किया जा चुका है, महिला कल्याण विभाग द्वारा भी क्रय प्रारंभ किया गया है।  इसके अतिरिक्त ओपन मार्केट में भी अब तक लगभग ७८००० सेनेटरी नेपकिन के पीस बेचे गए हैं ।  

श्रीमती जूही सिंह अध्यक्ष, बाल अधिकार संरक्षण आयोग, उ०प्र० ने इस कार्यक्रम को किशोरीयों एवं महिलाओं के लिए ऐतिहासिक कदम बताया।  उदयवीर सिंह यादव निदेशक पंचायतीराज विभाग ने सभी आगंतुकों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि स्वच्छता के क्षेत्र में हमारे प्रदेश द्वारा किया गया यह एक महत्वपूर्ण कार्य है। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India