फिर बेकार गयी रोहित की मेहनत

फिर बेकार गयी रोहित की मेहनत

दूसरा एकदिवसीय भी हारा भारत, गेंदबाज फिर नाकाम 

ब्रिस्बेन। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच मैचों की एकदिवसीय सीरीज का दूसरा मैच भी ऑस्ट्रेलिया ने अपने नाम कर लिया। ऑस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 309 रनों का लक्ष्य था। ऑस्ट्रेलिया ने 49 ओवर में तीन के विकेट के नुकसान पर ही लक्ष्य हासिल कर लिया। ऑस्ट्रेलिया की ओर से आरोन फिंच, शॉन मार्श और जॉज बैली ने अर्धशतक जमाए। बैली 58 गेंदों पर 76 रन बनाकर नाबाद लौटे। मैन ऑफ द मैच लगातार दूसरा शतक जमाने वाले रोहित शर्मा रहे।

सलामी बल्लेबाज आरोन फिंच और शॉन मार्श ने पारी की शुरुआत संभलकर की। दोनों बल्लेबाजों ने भारतीय गेंदबाजों को पहले  संभलकर खेला और फिर तेजी से पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने अर्धशतक जमाते हुए ऑस्ट्रेलिया को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया।  23 ओवर तक ऑस्ट्रेलिया ने 135 रन बना लिए थे।

भारत को पहली सफलता 25वें ओवर में मिली जब रवींद्र जडेजा की गेंद पर अंजिक्य रहाणे ने फिंच का जबरदस्त कैच लपका। फिंच ने 81 गेंदों पर 71 रनों की पारी खेली। मार्श का साथ देने कप्तान स्टीवन स्मिथ मैदान पर उतरे। 28वें ओवर में भारत ने एक बेहतरीन मौका गंवाया जब इशांत शर्मा की गेंद पर स्लिप में मनीष पांडे ने मार्श का कैच टपका दिया। इससे पहले इशांत ने भी जडेजा की गेंद पर फिंच को जीवनदान दिया था।

30वें ओवर में इशांत ने भारत को दूसरी सफलता दिलाई जब मार्श उनकी एक उठती हुई गेंद को खेलने में गलती कर गए और विराट कोहली ने आसान सा कैच लपक लिया।  मार्श 71 रन बनाकर आउट हुए। स्मिथ का साथ देने जॉर्ज बैली मैदान पर आए। दोनों की जोड़ी खतरनाक होती जा रही थी। तभी 41वें ओवर में उमेश यादव ने स्मिथ को बोल्ड कर भारत की तीसरी सफलता दिलाई। स्मिथ ने 47 गेंदों पर 46 रनों की पारी खेली। स्मिथ के बाद बैली का साथ देने मैक्सवेल आए। दोनों आसानी से मैच ऑस्ट्रेलिया के नाम कर नाबाद पवेलियन लौटे। बैली ने 76 रनों की पारी खेली।

इससे पहले भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला करते हुए 8 विकेट पर 308 रन बनाए। भारत की ओर से रोहित शर्मा ने शतक जमाया जबकि अंजिक्य रहाणे (89 रन) और विराट कोहली ने (59 रन) अर्धशतक जमाए।

भारत को पहला झटका तीसरे ओवर में लगा जब जोएल पेरिस ने शिखर धवन को विकेटकीपर मैथ्यू वेड के हाथों कैच आउट करवा दिया। धवन ने 6 रन बनाए। इसके बाद रोहित शर्मा का साथ देने विराट कोहली मैदान पर उतरे। दोनों ने संभलकर खेलते हुए अर्धशतकीय साझेदारी की। भारत को 24वें ओवर में दूसरा बडा़ झटका लगा जब विराट कोहली 59 रन पर रन आउट हो गए। इस बीच रोहित शर्मा अंजिक्य रहाणे के साथ पारी को आगे बढ़ाते रहे और शतक के करीब पहुंच गए।

रोहित शर्मा ने मैच के 37वें ओवर में 11 गेंदों पर शतक जमाया। रोहित का ये सीरीज का लगातार दूसरा और करियर का 10वां शतक रहा। 43वें ओवर में रोहित की पारी का अंत हो गया। रोहित ने 127 गेंदों में 124 रन बनाए। रोहित को जेम्स फॉकनर ने रन आउट किया। उधर, रहाणे ने भी जोरदार पारी खेलते हुए अर्धशतक जमाया। उनका साथ देने 43वें ओवर में कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आए। लेकिन धोनी ज्यादा देर तक टिक नहीं सके। 45वें ओवर में धोनी 11 रन पर बोलेंड का  शिकार बन गए।

शतक की ओर बढ़ रहे  अंजिक्य रहाणे  भी 49वें ओवर में बड़ा शॉट मारने के फेर में बाउंड्री पर लपक लिए गए। रहाणे ने 80 गेंदों पर 89 रनों की तेज पारी खेली। उनकी पारी का अंत जेम्स फॉकनर ने स्मिथ के हाथों कैच कराकर किया।

पहले मैच में 309 रनों का शानदार स्कोर बनाने के बावजूद भी भारत पांच विकेट से हार गया था। दूसरे मैच में दोनों ही टीमों को अपने गेंदबाजों से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी। पहले मैच में भारत और ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों ने जमकर रन लुटाए थे।

पहले मैच में भारत ने पहले खेलते हुए 309 रन बनाए थे लेकिन बावजूद इसके भारत के गेंदबाज लक्ष्य बचाने में नाकामयाब रहे थे। टीम के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने भी मैच के बाद कहा था कि उनके स्पिनरों का ना चलना उनके लिए हैरानी की बात थी।