मुख्यमंत्री ने बांटे मुफ्त 300 ई-रिक्शा

मुख्यमंत्री ने बांटे मुफ्त 300 ई-रिक्शा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि प्रदेश की समाजवादी सरकार ने करीब 4 वर्षों में किसानों, गरीबों, महिलाओं, नौजवानों एवं अल्पसंख्यकों सहित समाज के सभी वर्गों की बेहतरी के लिए जिस पैमाने पर फैसले लिए हैं, इतने बड़े पैमाने पर देश की किसी अन्य राज्य सरकार द्वारा नहीं लिए गए हैं। सरकार समाज के सभी वर्गों का जीवन-स्तर उठाने एवं जीवन यापन आसान करने के लिए कई योजनाएं संचालित कर रही है। उन्होंने समाजवादी सरकार को सर्वाधिक लोकतांत्रिक एवं लिबरल सरकार बताते हुए कहा कि जनता की परेशानियों को दूर करने के लिए हर सम्भव कदम उठाए गए हैं। 

मुख्यमंत्री आज यहां जनेश्वर मिश्र पार्क में प्रदेश के शहरी क्षेत्रों के निजी स्वामित्व पंजीकृत रिक्शा चालकों को मुफ्त बैटरी चालित ई-रिक्शा प्रदान करने की योजना के तहत जनपद लखनऊ के 300 लाभार्थियों को ई-रिक्शा वितरण कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। इस मौके पर उन्होंने 25 ई-रिक्शा चालकों को समस्त दस्तावेजों सहित रिक्शा की चाभी हस्तगत कराकर उन्हें रवाना किया। उन्होंने सूडा के टोल फ्री हेल्पलाइन नम्बर 1800-1800-155 का शुभारम्भ भी किया। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादियों ने हमेशा गरीबों केे सम्मानजनक जीवन जीने के लिए प्रयास करने का काम किया है। उन्होंने प्रदेश की समाजवादी ई-रिक्शा योजना की विशेषताओं का उल्लेख करते हुए कहा कि इस प्रकार की मुफ्त योजना किसी भी सरकार द्वारा संचालित नहीं की जा रही है। ई-रिक्शे की कीमत 1 लाख 37 हजार 727 रुपए के अलावा अभिलेखी प्रक्रियाओं एवं बीमा आदि के लिए लगभग 31 हजार रुपए की पूरी धनराशि राज्य सरकार द्वारा वहन की जा रही है। इसके संचालन के लिए पात्र रिक्शा चालकों को 10 दिवसीय तकनीकी प्रशिक्षण भी प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने भरोसा जताया कि जिन्हें अब तक ये रिक्शा प्राप्त हो चुका है, उन्हें आत्मसम्मान के साथ जीने का मौका मिलेगा। शेष पात्र व्यक्तियों को क्रमशः ई-रिक्शे वितरित किए जाएंगे। इसके लिए आगामी बजट में भी पर्याप्त धनराशि की व्यवस्था की जाएगी। 

श्री यादव ने सरकार के अब तक के कार्यों को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि बजट के माध्यम से प्रदेश सरकार गरीबों की बेहतरी के लिए लगातार काम कर रही है। लगभग 4 वर्ष का समय पूरा होने के बाद अब यह दावे से कहा जा सकता है कि जनता से किए हर वायदे को पूरा करने के साथ ही जनता को राहत पहुंचाने का काम किया गया है। प्रदेश में विश्वस्तरीय बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने की दिशा में कई परियोजनाएं तेजी से संचालित की जा रही हैं। उन्होंने जनेश्वर मिश्र पार्क का उदाहरण देते हुए कहा कि देश के किसी भी राज्य में इस प्रकार का पार्क विकसित नहीं किया गया है। यह पार्क जनता द्वारा कितना पसंद किया जा रहा है, इसका उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि गत 1 जनवरी, 2016 को इस पार्क में आने वाले लोगों की करीब 1 लाख से अधिक मौजूदगी मीडिया द्वारा बतायी गई है। इससे इस पार्क की उपयोगिता स्वतः सिद्ध हो जाती है। इसी प्रकार देश का सबसे बड़ा एक्सप्रेस-वे समाजवादी सरकार बनाने का काम कर रही है, जिससे प्रदेश की आर्थिक एवं सामाजिक स्थिति में बड़ा परिवर्तन आएगा। शीघ्र ही लखनऊ से बलिया तक बनने वाले एक्सप्रेस-वे पर भी काम शुरू किया जाएगा। लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इतने कम समय में देश में मेट्रो की कोई परियोजना पूरी नहीं की गई। दिल्ली में व्याप्त प्रदूषण का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा संचालित मेट्रो, मुफ्त ई-रिक्शा के वितरण तथा साइकिल टैªक से लखनऊ नगर की आबोहवा पर निश्चित रूप से असर पड़ेगा। 

इस मौके पर नगर विकास, संसदीय कार्य एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मोहम्मद आजम खां ने कहा कि समाजवादी सरकार ने गरीबों को रोजी-रोटी के प्रबन्ध के साथ-साथ मकान भी देने का काम कर रही है ताकि आर्थिक रूप से कमजोर लोगों का सम्मान बना रहे। उन्होंने कहा कि ई-रिक्शा से कई गरीबों को आत्म सम्मान के साथ जीने का अवसर मिलेगा। कार्यक्रम को सचिव नगर विकास एस0पी0 सिंह ने भी सम्बोधित किया। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India