गोदरेज एप्लायंसेज राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार से सम्मानित

गोदरेज एप्लायंसेज राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार से सम्मानित

पर्यावरण के प्रति अपनी वचनबद्धता के अनुरूप, भारत के प्रमुख घरेलू उपकरण ब्रांडों में से एक, गोदरेज एप्लायंसेज ऐसे उत्पादों को डिजाइन करने के लिए अपनी शोध एवं विकास पहलों पर लगातार ध्यान देता रहा है, जिनमें बहुत ही कम ऊर्जा खर्च हो। हाल ही में, गोदरेज एप्लायंसेज को ब्यूरो आॅफ एनर्जी एफिशियंसी (बीईई) को राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार (एनईसीए) 2015 में पहले और दूसरे स्थान पर 4 पुरस्कार हासिल किये। गोदरेज एप्लायंसेज को इसके शिरवाल निर्माण इकाई के लिए ‘उपभोक्ता वस्तु किफायती ऊर्जा खपत निर्माण’ श्रेणी में पहला स्थान प्राप्त हुआ, जबकि इसे इसके मोहाली निर्माण इकाई के लिए एनर्जी एफिशियंसी इन रेफ्रिजरेटर्स, एनर्जी एफिशियंसी इन एयर कंडीशनर और कंज्यूमर गुड्स एनर्जी एफिशियंट मैन्यूफैक्चरिंग में द्वितीय स्थान पर तीन पुरस्कार प्राप्त हुए।

इस अवसर पर, श्री कमल नंदी, बिजनेस हेड और कार्यकारी उपाध्यक्ष, गोदरेज एप्लायंसेज ने कहा, ‘‘हम इन चार पुरस्कारों को पाकर स्वयं को सम्मानित महसूस कर रहे हैं। किफायती ऊर्जा खपत वाले और इको-फ्रेंड्ली उत्पाद तैयार करने की दिशा में हमारे प्रयासों के लिए यह एक बहुत बड़ा सम्मान है। एक संगठन के रूप में, हम एनर्जी एफिशियंसी अभियान के आरंभ से ही इसके साथ सक्रियतापूर्वक जुड़े हुए हैं। हम ऐसे पहले संगठनों में से भी एक हैं, जो स्वैच्छिक चरण के दौरान भी बीईई के साथ पंजीकृत थे। ये पुरस्कार हमें प्रोत्साहित करते हैं ताकि हम ऐसे उत्पाद तैयार करने की दिशा में और प्रयास करें जिनसे पर्यावरण के प्रति हमारी जिम्मेवारी पूरी होती है और जो हमारे ग्राहकों के लिए खोजपरक व आनंदायक हैं।’’

गोदरेज एप्लायंसेज के मैन्युफैक्चरिंग हेड और वरिष्ठ उपाध्यक्ष, श्री हुसैन शरियार ने बताया, ‘‘इंडस्ट्री के भीतर सबसे ऊर्जाक्षम निर्माण इकाई के रूप में सम्मानित किया जाना हमारे लिए प्लेटिनम रेटिंग के बाद एक और उपलब्धि है। वर्ष-दर-वर्ष ऊर्जा की खपत कम करने के हमारे लगातार प्रयास और ऊर्जा संरक्षण के प्रति हमारे खोजपरक एप्रोच के चलते संगठन को और समग्र रूप से समाज को भारी फायदा हुआ है।’’