दर्द देने वालों को कराएँगे दर्द का एहसास: रक्षा मंत्री

दर्द देने वालों को कराएँगे दर्द का एहसास: रक्षा मंत्री

नई दिल्ली: नए साल में पठानकोट एयरफोर्स बेस पर हुए आतंकवादी हमले के बारे में रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने सोमवार को कहा, "जिन्होंने हमें नुकसान पहुंचाया है, उन्हें भी दर्द महसूस करना होगा, और उसके लिए वक्त व जगह भी हम तय करेंगे..."

एक सेमिनार के दौरान रक्षामंत्री ने कहा कि जब तक बराबर का दर्द दुश्मन को नहीं दिया जाएगा, वह हमें और हमारे देश को इसी तरह दर्द देता रहेगा। गौरतलब है कि नए साल के पहले ही हफ्ते में हुए इस आतंकवादी हमले में सात जवान शहीद हुए थे, और 20 घायल हुए।

भारत का दावा है कि इस हमले को पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने अंजाम दिया। यह भी गौरतलब है कि हमले से एक ही हफ्ते पहले क्रिसमस के मौके पर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिना किसी तयशुदा कार्यक्रम के अचानक लाहौर पहुच गए थे, और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ से मुलाकात की थी। हमले के बाद पीएम मोदी ने शरीफ से यह भी कहा कि भारत दोषियों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई चाहता है।

भारत द्वारा पठानकोट हमले के संदर्भ में पाकिस्तान को सौंपे गए सबूतों में उन फोन कॉलों की रिकॉर्डिंग शामिल है, जो आतंकवादियों ने पाकिस्तान में बैठे हैंडलरों को की थीं। इसके अलावा आतंकवादियों के कब्जे से बरामद हथियार और गोला-बारूद भी पाकिस्तान में बना हुआ पाया गया है।

India