सपा सरकार की शोशेबाजी है आगरा प्रवासी सम्मेलन: डाॅ0 चन्द्रमोहन

सपा सरकार की शोशेबाजी है आगरा प्रवासी सम्मेलन: डाॅ0 चन्द्रमोहन

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा प्रवासी सम्मेलन केवल विफल कानून व्यवस्था से ध्यान हटाने की कवायद मात्र है। प्रदेश की सपा सरकार पहले अपने अभी तक के निवेश  का लेखा जोखा प्रदेश की जनता के सामने रखे। 

प्रदेश पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से चर्चा करते हुए प्रदेश पार्टी प्रवक्ता डाॅ0 चन्द्रमोहन ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा आगरा प्रवासी सम्मेलन में कुछ भी नया नहीं है इससे पूर्व भी आगरा, लखनऊ, मुम्बई सहित अनेकों स्थानों पर निवेश के लिए प्रदेश सरकार पहल कर चुकी है पिछले  दिनों सितम्बर में मुम्बई में हुए कार्यक्रम में भी 33000 करोड़ निवेश और 1.5 लाख रोजगार की बात कही गयी थी लेकिन अभी तक कोई भी प्रगति नहीं हुई है। 

प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 चन्द्रमोहन ने कहा कि उत्तर प्रदेश समर्थयों और व्यापाक सम्भावनाओं का प्रदेश है लेकिन प्रदेश सरकार के पास अपने औद्योगिक-संकुलो के विकास का कोई रोड मैप ही नही है प्रदेश सरकार बताये कि वह आगरा के ही उद्योगो के विकास के लिए और उनकी समस्याओं के समाधान के लिए अभी तक क्या पहल और प्रयास किये उनका परिणाम क्या आया?

प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 चन्द्रमोहन ने कहा कि प्रदेश सरकार की प्राथमिकता केवल विज्ञापनवाद  है सरकार को प्रदेश की जनता को बताना होगा कि निवेश की सम्भावनाओं पर अभी तक कुछ कितना खर्च किया है। प्रदेश सरकार अपने चहेतों को लाभ पहुॅचाने के लिए ही ऐसे आयोजनों को कर रही है।

प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 चन्द्रमोहन ने कहा कि आगरा प्रवासी सम्मेलन में भी पूर्व की भांति एमओयू पर हस्ताक्षर होगंे लेकिन परिणाम भी पूर्व की भांति नगण्य ही रहेगा। प्रदेश सरकार को चाहिए वह पहले निवेश के लिए जरूरी माहौल बनाये। प्रदेश के बडे शहरों में भी कानून व्यवस्था पूर्ण रूपेण ध्वस्त है। व्यापारी आहत और निराश है। प्रदेश सरकार आधार भूत ढांचा का मजबूत करें। सरकार अभी तक लोकायुक्त नियुक्त नहीं कर पायी हैं। निवेशकों को सुरक्षित  और भ्रष्टाचार मुक्त माहौल सबसे पहले  चाहिए। 

प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 चन्द्रमोहन ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार युवाओं को रोजगार देने में पूरी तरह विफल है सरकारी नौकरियों की युवा बाट जो रहे है । सरकार की प्राथमिकता केवल जाति विशेष को ही लाभ पहुॅचाने की ही रही हैं। प्रदेश  में सरकारी सेवाओं में बडी संख्या में पद रिक्त है लेकिन सरकार की नीयत में ही खोट है। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India