साजन, आनंद की सपा में वापसी

साजन, आनंद की सपा में वापसी

मुलायम ने ख़त्म किया निष्कासन 

लखनऊ: समाजवादी छात्रसभा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील यादव 'साजन' और लोहिया वाहिनी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आनंद भदौरिया पर सपा मुखिया मुलायम और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के करीबी इन दोनों नेताओं का निष्कासन खत्म करने की हरी झंडी दे दी।  जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव के नामांकन का समय खत्म होते ही दोनों की वापसी का एलान कर दिया गया।

समाजवादी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता व मंत्री शिवपाल यादव ने दोनों का निष्कासन खत्म कर उन्हें फिर से पार्टी में शामिल करने की घोषणा की है। जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव को लेकर छिड़ी रार के चलते 25 दिसंबर को सपा नेतृत्व ने पार्टी की युवा ब्रिगेड के दोनों नेताओं को बाहर का रास्ता दिखा दिया था। कहा गया कि दोनों नेताओं की कार्यशैली से मुलायम बेहद नाराज थे। समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव के करीबियों में शुमार इन दोनों के खिलाफ कार्रवाई से कई नेता सहम गए थे। इस बीच इन दोनों नेताओं ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मेल-मुलाकात का सिलसिला जारी रखा। गत दिवस आनंद भदौरिया ने सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव से उनके आवास पर मुलाकात की और अपना पक्ष रखा। भरोसा दिलाया कि वह समाजवादी नीतियों के अनुरूप कार्य करते रहेंगे। अगले दिन साजन ने परिवार के साथ मुलायम सिंह यादव से मुलाकात की। फिर दोनों नेताओं ने अलग-अलग समय में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सामने अपना पक्ष रखा और कहा कि वह युवा टीम में पूरी निष्ठा से कार्य करते रहेंगे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India