राजनीतिक पार्टियों में प्रशांत किशोर की बढ़ी डिमांड

राजनीतिक पार्टियों में प्रशांत किशोर की बढ़ी डिमांड

टीएमसी, डीएमके ने आधुनिक चाणक्य से किया संपर्क!

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लोकसभा चुनाव में जीत दिलाने के बाद बिहार चुनाव में नीतीश कुमार के खेवनहार बनने वाले रणनीतिकार प्रशांत किशोर और उनकी टीम अब 2016 में ममता बनर्जी की नैया पार लगाते दिखाई देंगे।

नीतीश कुमार और मोदी को जीत दिलाने के बाद अब माना जा रहा है कि टीम प्रशांत अब पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी और उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस के लिए काम करेंगे।

गौरतलब है कि अगले साल पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने हैं और संभावना जताई जा रही है कि टीम प्रशांत किशोर ही मौजूदा मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के इलेक्शन मैनेजमेंट का जिम्मा संभालेंगे। मिली जानकारी के अनुसार तृणमूल कांग्रेस पार्टी ने प्रशांत से संपर्क साधा है और संभावनाएं जताई जा रही हैं कि इस सिलसिले में जल्द ही प्रशांत और उनकी टीम के साथ बैठकों का दौर शुरू हो सकता है।

हालांकि ममता बनर्जी ने एक अंग्रेजी अखबार में दिए इंटरव्यू में इस सवाल के पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि फिलहाल अभी इस बारे में किसी तरह की चर्चा नहीं हुई है। दरअसल बिहार चुनाव में मोदी की लहर फीकी पड़ने के बावजूद भी ममता बनर्जी किसी भी तरीके का रिस्क नहीं लेना चाहती हैं। इसलिए दुबारा सत्ता का सुख भोगने की मंशा से ममता बनर्जी के टीम प्रशांत कुमार से डील होने की संभावना भढ़ी हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार यह बात भी सामने आई है कि ममता बनर्जी ही नहीं बल्कि टीम प्रशांत को तमिलनाडू की डीएमके पार्टी से भी संपर्क साधा गया है। साफ़ है कि एक के बाद एक दो बड़े चुनाव में जीत के लिए सफल रणनीति बनाने वाले प्रशांत की 'ब्रैंड वैल्यू' इस समय आसमान छू रही है।

India