कृतियों ने दर्शंकों के मन को रंगा

कृतियों ने दर्शंकों के मन को रंगा

दो दिवसीय पेंटिग प्रदर्शनी  रूपांकन का समापन 

आजमगढ़। आजमगढ फाइन आर्ट सेंटर द्वारा  अग्रसेन महिला पीजी कालेज में आयोजित की गई दो दिवसीय पेंटिग प्रदर्शनी रूपांकन का समापन मंगलवार को हुआ. दो दिन की इस प्रदर्शनी में महिला कलाकारों द्वारा प्रदर्शित की गई कृतियों ने  दर्शंकों के मन को खूब रंगा।  दूसरे दिन बड़ी संख्या में कला प्रेमियों ने पेंटिंगों का अवलोकन किया साथ ही कलाकारों से उनके पेंटिंग से जुड़े सवाल भी किये।  कई दर्शक पेंटिंगों में डूबे नजर आये. नन्हें कलाकारों की पेंटिंगों की भी खूब सराहना हुई. 

प्रदर्शनी में पहुंचे वरिष्ठ साहित्यकार डॉ कन्हैया सिंह ने कहा कि सृजन और सहयोग समाज में ख़त्म होता जा रहा है इसलिए समाज में आतंकवाद बढ़ता जा रहा है.समाज को सही दिशा प्रदान करने में सृजन करने वाले ऐसे कलाकारों की आज के समय में भूमिका महत्वपूर्ण हो गई है.यहाँ की कृतियों को देख कर जनपद के कलाकारों में मुझे गर्व होता है.

फाइन आर्ट सेंटर की निदेशिका एवम् संयोजक लीना मिश्रा ने कहा कि जनपद में इस तरह की प्रदर्शनी लगा कर बहुत अच्छा लगा है.हम महिला कलाकारों को ऊर्जा मिली है जो और बेहतर करने को प्रेरित करती है.आने वाले समय में भी इस तरह के प्रयास किये जाते रहेंगे। 

प्रदर्शनी में जनपद के हर उम्र के लोगों ने शिरकत की.महिला कलाकारों से उनकी कला से जुड़े सवाल भी किये।दर्शक कलाकृतियों की सजीवता में मंत्र मुग्ध से नजर आ रहे थे. ऐसा लग रहा था मानो कलाकृतियां अभी बोल उठेंगीं।प्रदर्शनी में प्राचार्या डॉ शशि श्रीवास्तव, डॉ उमा त्रिपाठी, डॉ शैलजा त्रिपाठी, डॉ वंदना द्विवेदी, डॉ निशा यादव, डॉ इंदु, डॉ आराधना सिंह, डॉ जय प्रकाश यादव, माला द्विवेदी, दीनू अग्रवाल, डॉ इन्दुमति दुबे, डॉ वी के सिंह,डॉ संतोष सिंह, संत प्रसाद अग्रवाल समेत तमाम लोगों ने शिरकत की. 

Uttar Pradesh, India