IS और RSS में ज़्यादा अंतर नहीं: इतिहासकार इरफान हबीब

IS और RSS में ज़्यादा अंतर नहीं: इतिहासकार इरफान हबीब

नई दिल्ली : देश के नामचीन इतिहासकार इरफान हबीब ने आरएसएस की तुलना आतंकी संगठन आईएस से कर डाली। दिल्ली में नरेंद्र डाभोलकर के जन्म दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में बोलते हुए हबीब ने कहा कि आईएस और आरएसएस (राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ) में ज्यादा अंतर नहीं है। उन्होंने कहा है कि दोनों ही संगठन एक ढ़ंग से काम कर रहे हैं।

एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में हबीब ने कहा कि ये सच है कि सांप्रदायिक घटनाएं पहले भी हुईं, लेकिन अब हमारे पास परेशान होने की ज्यादा वजहें हैं। पहले भी हिंसा हुई है लेकिन हमें ये नहीं भूलना चाहिए कि आरएसएस इन हिंसाओं से किसी ना किसी तरह जुड़ा रहा।

उन्होंने सवाल उठाया कि आखिर वह कैसे इस बात को कह सकते हैं, जबकि राष्ट्रपति, कई उद्योगपति, यहां तक कि आम लोग भी बढ़ती असहिष्णुता को लेकर चिंता जता रहे हैं। लेखकों और कलाकारों ने केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली की उस टिप्पणी का विरोध किया जिसमें उन्होंने कहा था कि असहिष्णुता को लेकर किया जा रहा विरोध बनावटी है।

India