नाईक ने मुख्यमंत्री को भेजी मुजफ्फरनगर दंगों की जांच रिपोर्ट

नाईक ने मुख्यमंत्री को भेजी मुजफ्फरनगर दंगों की जांच रिपोर्ट

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल रामनाईक ने आज मुजफ्फरनगर दंगों की जांच रिपोर्ट मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को कार्रवाई के लिए भेजी है। राज्यपाल ने रिपोर्ट का अध्ययन करने के बाद इसे मुख्यमंत्री को भेजा है। यह रिपोर्ट कल मुजफ्फरनगर दंगों की जांच के लिए गठित न्यायमर्ति विष्णु सहाय आयोग ने राज्यपाल को सौंपी थी।  उल्लेखनीय है कि अगस्त 2013 में मुजफ्फरनगर में दंगे के बाद नौ सितंबर 2013 को इस जांच आयोग का गठन किया गया था। न्यायमूर्ति सहाय ने 11 सितंबर से जांच शुरू की। जांच पूरी करने में दो वर्ष 14 दिन लगे। शासन ने कई बार जांच अवधि भी बढ़ाई। पहली बार उन्हें दो माह में ही जांच पूरी करने को कहा गया था।

न्यायमूर्ति द्वारा छह खंडों में 775 पृष्ठों की रिपोर्ट तैयार की गयी है। विष्णु सहाय आयोग का गठन 'कमीशन आफ इंक्वायरी एक्ट 1952' के प्रावधानों के अन्तर्गत नौ सितम्बर, 2013 को किया गया था। इस आयोग को पहले मुजफ्फरनगर दंगों की जांच करनी थी लेकिन बाद में सहारनपुर, मेरठ, शामली और बागपत के दंगे भी इस जांच में शामिल किए गए। आयोग के पास तीन हजार से ज्यादा शपथपत्र आए और करीब पौने चार सौ लोगों की गवाही दर्ज की गयी।

Lucknow, Uttar Pradesh, India