हवाबाज़ का जवाब हवालेबाज़ से

हवाबाज़ का जवाब हवालेबाज़ से

मध्य प्रदेश में सोनिया पर बरसे मोदी 

भोपाल : कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की ओर से की गई ‘हवाबाजी’ संबंधी टिप्पणी पर पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संसद में जीएसटी विधेयक पारित नहीं होने देने के लिए कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि देश के विकास, जनता की भलाई के काम और लोकतंत्र के मार्ग में ‘हवालाबाज’ रुकावटें खड़ी कर रहे हैं और कालेधन पर सरकार की ओर से सख्त कानून बनाने से परेशान हो गए हैं। और अब ऐसे हवालेबाज लोग हमसे हिसाब मांग रहे हैं।  

प्रधानमंत्री ने कहा कि जब 1984 में भाजपा की दो सीटें थी उस समय तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी भाजपा का मजाक उड़ाते थे और अब कांग्रेस के सीटों की संख्या 40 रह गई है जो कभी 400 थी। प्रधानमंत्री ने यहां भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि लोकतंत्र में जय और पराजय होती रहती है। चुनाव में जय मिलने पर जनता की भलाई के लिए प्राणप्रण से काम करने और पराजय मिलने पर आत्ममंथन करके कमियों को दूर करने की जरूरत होती है। लेकिन कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में पराजय से कोई सबक नहीं लिया है। हमने पराजय के बाद अपनी कमियों को देखा और किसी पर दोष नहीं मढ़ा। इसी सोच का नतीजा है कि जनता ने आज पूर्ण बहुमत दिया और सरकार चुनी। जनता के विश्‍वास को पूरा करने में कसर नहीं छोड़ूंगा।

संसद में जीएसटी विधेयक पारित नहीं होने देने के लिए कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि हमने इस आशा से संसद सत्र का सत्रावसान नहीं किया था कि विरोधी दल देश के लोगों की आशा, आकांक्षाओं को समझेंगे, जनता की भावना को समझेंगे। अगर जनता ने पराजय दी है तो उसे स्वीकार करेंगे। हमें उम्मीद थी कि कुछ समय के व्यवधान के बाद संसद चलने लगेगी। उन्होंने कहा कि करीब-करीब सभी दल इस बात से सहमत थे कि संसद चलनी चाहिए, निर्णय होने चाहिए लेकिन एक है जो मानता नहीं। आखिरकार भारी मन से हमें संसद का सत्रावसान करने का निर्णय करना पड़ा। संसद चले ऐसी आशा थी लेकिन उन्होंने (कांग्रेस) ऐसा होने नहीं दिया। जीएसटी पर मानसूत्र सत्र की अवधि को बढ़ाने का विचार छोड़ने के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के अलावा अन्य सभी दल संसद की कार्यवाही चलाने के पक्ष में थे।

कांग्रेस अध्यक्ष की ओर से प्रधानमंत्री पर ‘हवाबाजी’ करने संबंधी टिप्पणी का जिक्र किये बिना मोदी ने कहा कि सरकार ने कालाधन पर कठोर कानून बनाया है। कालेधन पर कठोर कानून से हवालेबाजों के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई है, वे परेशान हो गए हैं। मोदी ने कहा कि हवालेबाज लोकतंत्र के मार्ग में रुकावटें डालने का काम कर रहे हैं।

पीएम ने कहा कि आर्थिक संकट में आज अकेला हिंदुस्‍तान ही टिका हुआ है। हमने विकास के लिए कई अहम योजनाएं लाई हैं। गैस सब्सिडी को हमने सीधे अकाउंट से जोड़ दिया। मुद्रा बैंक, जनधन योजना से गरीबों को भला होगा। गैस सब्सिडी में दलाली को खत्‍म किया।

मध्‍य प्रदेश की तारीफ करते हुए पीएम ने कहा कि हर राज्‍य कुछ न कुछ यहां से सीखता है़। मध्‍य प्रदेश की जनता का बीजेपी में विश्‍वास बढ़ता ही जा रहा है। इस मौके पर मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद थे।