वॉटसन ने टेस्ट को कहा अलविदा

वॉटसन ने टेस्ट को कहा अलविदा

 मेलबर्न। ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर खिलाड़ी शेन वॉटसन ने रविवार को टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की है। वॉटसन ने ये फैसला एक और इंजरी हो जाने के बाद लिया है। सीरीज के दूसरे वनडे मैच में इंग्लैंड के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया ने लॉर्ड्स के मैदान पर 64 रनों से जीत दर्ज की और इसी दौरान वॉटसन को इंजरी हुई।

एशेज में वॉटसन का प्रदर्शन खराब रहा और इसके चलते उन्होंने रविवार को कहा कि वे अब टेस्ट टीम में दोबारा जगह पाने के लिए प्रयास नहीं करेंगे। वॉटसन ने कहा, "पिछले कुछ दिनों मैंने कई बार सोचा कि सही फैसला क्या होगा। मुझे पता है कि मुझसे जितना हो सकता था मैंने उतना कुछ दिया है।" वॉटसन का कहना है कि उन्हें अब लगता है कि टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लेने का यही सही वक्त है।

उन्होंने कहा, "मुझे पता है आगे बढ़ना का यही सही समय है। मुझमें अब खासतौर पर टेस्ट क्रिकेट के लिए रियल फाइट नहीं है। इसलिए मुझे पता है कि यही सही समय है।" वॉटसन के टेस्ट करियर की शुरूआत 2005 में हुई थी। उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 59 मैच खेलें हैं, जिसमें उन्होंने 35.19 की औसत से 3,731 रन बनाए और 33.68 की औसत से 75 विकेट भी लिए हैं।