डेस्क पर काम करने वाले पत्रकारों को भी मिले मुफ्त चिकित्सा सुविधा

डेस्क पर काम करने वाले पत्रकारों को भी मिले मुफ्त चिकित्सा सुविधा

मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति ने मुख्य सचिव को सौंपा ज्ञापन

लखनऊ: उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के तत्वावधान में पत्रकारों के एक प्रतिनिधिमंडल ने आज मुख्य सचिव आलोक रंजन से मुलाकात करके  यह मांग की किडेस्क पर काम करने वाले श्रमजीवी पत्रकारों को मान्यता प्राप्त पत्रकारों और राज्य कर्मचारियों की तरह सभी सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए पहचान पत्र जारी किए जाएं। पिछले कुछ वर्षों से डेस्क पर काम करने वाले पत्रकारों को इस सुविधा से वंचित कर दिया गया है। समिति के अध्यक्ष प्रांशु मिश्रा और महासचिव नीरज श्रीवास्तव के नेतृत्व में मुख्य सचिव से प्रतिनिधिमंडल की यह मुलाकात एनेक्स कार्यालय में हुई। पी जी आई में मान्यता प्राप्त पत्रकारों के मुफ्त इलाज के संबंध में सरकार के अध्यादेश का विस्तार करने का आग्रह भी किया गया ताकि उनके परिवार के लोगों को भी यह सुविधा मिल सके। इसके अलावा पी जी आई की तरह यह सुविधा अन्य मेडिकल कॉलेजों और उच्च चिकित्सा संस्थानों में भी लागू की जाए। नवनिर्वाचित अधिकारियों का परिचय शिवशंकर गोस्वामी, संजय राजन और मनोज छाबड़ा ने मुख्य सचिव से करवाया। मुख्य सचिव ने आश्वासन दिया कि वह समिति को इस कार्य में सहयोग देते रहेंगे। इस अवसर पर मुख्य सचिव का ध्यान गंभीर रूप से बीमार वरिष्ठ पत्रकार सुरेंद्र सिंह की ओर आकृष्ट करवाते हुए उनके परिवार को वित्तीय सहायता दिलवाने की मांग भी की गई। प्रतिनिधिमंडल में वरिष्ठ पत्रकार राम दत्त त्रिपाठी, शरत प्रधान, हिसाम सिद्दीकी, रूचि कुमारी, पंकज झा, आनंद सिन्हा, मनीष श्रीवास्ताव सहित समिति  के चयनित सदस्य मौजूद थे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India