आयुर्वेदिक क्षार-सूत्र एवं पंचकर्म चिकित्सा शिविर सम्पन्न

आयुर्वेदिक क्षार-सूत्र एवं पंचकर्म चिकित्सा शिविर सम्पन्न

लखनऊ:आयुर्वेदिक क्षार-सूत्र एवं पंचकर्म का विशिष्ट चिकित्सा शिविर का आयोजन राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय बंगला बाजार में आयोजित किया गया । इस अवसर पर  शारदा प्रताप शुक्ला विधायक सरोजनी नगर ने कहा कि लखनऊ क्षेत्र में किये जा रहे इस तरह के विशिष्ट रोगों हेतु आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविरों के आयोजन से लोग अधिक से अधिक लाभान्वित होंगे और आयुर्वेद का प्रचार-प्रसार जनमानस में हो सकेगा। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही सरोजनी नगर क्षेत्र में और भी एक से दो आयुर्वेदिक चिकित्सालयों को खोलने का प्रयास शासन से कराया जायेगा। 

इस अवसर पर क्षेत्रीय आयुर्वेदिक अधिकारी डाॅ0 शिव शंकर त्रिपाठी ने बताया कि लखनऊ क्षेत्र में आयुर्वेद एवं यूनानी विधा के प्रचार-प्रसार हेतु निरन्तर चिकित्सा शिविरों का आयोजन राजकीय आयुर्वेद एवं यूनानी चिकित्सालयों में किया जा रहा है और बंगला बाजार में स्थित इस राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय में पाइल्स (बवासीर) एवं भंगदर जैसी बीमारियों का क्षार-सूत्र विधि से इलाज पहले से ही किया जा रहा है और वात व्याधियों सहित अनेकों जीर्ण एवं असाध्य रोगियों की चिकित्सा हेतु भी इस चिकित्सालय में पंचकर्म का केन्द्र स्थापित किये जाने का प्रयास किया जायेगा। डाॅ0 त्रिपाठी ने बताया कि क्षार-सूत्र चिकित्सा से बवासीर एवं भंगदर का स्थायी इलाज संभव है तथा पंचकर्म से शरीर का शोधन होने पर असाध्य रोग भी साध्य हो जाते हैं

इस शिविर एवं राजकीय आयुर्वेद चिकित्सालय बंगला बाजार के प्रभारी डाॅ0 अरूण कुमार सहित डाॅ0 राजेश त्रिपाठी एवं महिला चिकित्सक डाॅ0 पुष्पा श्रीवास्तव द्वारा बवासीर, भंगदर के 57, मधुमेह के 43, वात व्याधि के 68, स्त्री रोग के 24, उदर रोग के 106 एवं त्वचा आदि अन्य रोग के 137 रोगी मिलाकर कुल 435 रोगियों को निःशुल्क औषधि वितरण कर चिकित्सा प्रदान की गयी। केरल से प्रशिक्षण प्राप्त डाॅ0 अरूण कुमार एवं डाॅ0 राजेश त्रिपाठी ने पंचकर्म एवं क्षार-सूत्र चिकित्सा के बारे में जानकारी दी कि ये आयुर्वेद की ऐसी चिकित्सा विधियाँ हैं जिनसे रोग जड़ से समाप्त होता है। इस शिविर में मधुमेह के रोगियों का निःशुल्क जांच की सुविधा भी माननीय विधायक जी के सहयोग से प्रदान की गयी तथा योग विशेषज्ञ श्री संदीप चैरसिया एवं राजकिशोर द्वारा शिविर में आए रोगियों को रोगानुसार योग एवं प्राणायाम की जानकारी देते हुए उन्हें स्वस्थ रहने के सुझाव भी दिए गए।

Lucknow, Uttar Pradesh, India