मोदी जी सिर्फ बोलते हैं और बोलते ही रहेंगे: राहुल

मोदी जी सिर्फ बोलते हैं और बोलते ही रहेंगे: राहुल

अमेठी। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला। बिहार को दिए पैकेज पर राहुल ने मोदी को निशाना बनाया। काले धन की वापसी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज-ललित मोदी प्रकरण पर भी राहुल ने मोदी को घेरा।

राहुल ने कहा कि अभी मोदी जी बिहार गए और बिहार की जनता से वादा किया लाखों करोड़ों का पैकेज दूंगा। वह जो भी मन में आता हैं बोल देते हैं। 15 लाख की बात कही थी किसी को मिला? हरियाणा में वादा किया कि वन रैंक वन पेंशन देंगे, आज आर्मी के लोग भूख हड़ताल कर रहे हैं।

आर्मी के लोग भूख हड़ताल कर रहे हैं, उनको देने को पैसे नहीं हैं और बिहार में सवा लाख करोड़ देने की बात कर रहे हैं। बोलते हैं मन की बात करेंगे पर हिंदुस्तान के मन की बात कौन सुनेगा? पीएम बन गए हैं पर भूल गए हैं पीएम का काम कैसे करते हैं, यहां वादा वहां वादा।

मोदी जी ने सोचा गरीबों से हमें जमीन लेनी है, जब आए बड़ी-बड़ी बातें करके आए, पर जब टक्कर हुई तो दो मिनट में घूम के भाग गए। जब दवाब पड़ता है 2 मिनट में नया वादा कर देते हैं। सोच ये है कि पूरे हिंदुस्तान में अलग अलग बात करो। लोग समझते हैं कि मोदी जी सिर्फ बोलते हैं और बोलते ही रहेंगे। कांग्रेस पार्टी झेलेगी नहीं, जहां भी किसानों को एक कदम हटाया हम इनको दो कदम पीछे करेंगे।

बिहार पैकेज पर राहुल ने कहा कि मोदी जी ने अभी बिहार में पैकेज की बात की कही, इन वादों से समय नष्ट होता है। इस सरकार ने आर्थिक प्रगति को नापने का तरीका बादल दिया। प्रगति हो नहीं रही थी, तो नापने का तरीका बदल दिया। पूरी दुनिया पूछ रही ये क्या किया?

राहुल गांधी ने कहा कि जिस दिन मोदी जी की सरकार आई वो 15 लाख के बारे में भूल गए, काला धन के बारे में भूल गए, संसद में इनके हमने 2-3 काम पकड़े हैं, ललित मोदी काला धन का सबसे बड़ा नाम है, सुषमा जी ने उन्हें विदेश जाने की अनुमति दे दी। सुषमा स्वराज को ये बात मालूम है, बाकी पूरे हिंदुस्तान को नहीं मालूम। ललित मोदी से वसुंधरा के बेटे ने 12 करोड़ रुपए लिए, इस पर भी मोदी जी चुप हैं।

मोदी जी ने सोचा हम सदन में 40-45 हैं तो ये क्या करेंगे, लेकिन हमने विरोध किया और उन्हे पीछे हटना पड़ा। हिंदुस्तान को अगर आगे बढ़ाना है तो उसमें उद्योगपति की भी जगह होनी चाहिए, किसानों की भी जगह होनी चाहिए। जगदीशपुर में किसानों से मुलाकात के दौरान राहुल ने कहा कि यहां किसी ने सूट बूट पहना है क्या। लेकिन देश में सूट बूट की सरकार चल रही है। मैं चाहता हूं आपके सूट-बूट की सरकार चले। आपके कुर्ता पाजामे की सरकार चले।