मानसून सत्र के अंतिम दिन भी हंगामा

मानसून सत्र के अंतिम दिन भी हंगामा

नई दिल्ली : संसद के मानसून सत्र के अंतिम दिन भी हंगामा जारी रहा। गुरुवार को लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने जोरदार हंगामा किया। कांग्रेसी सासंदों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सदन में बुलाने की अपील की। कांग्रेसी सांसद लगातार नारेबाजी करते दिखे। दोपहर लगभग सवा 12 बजे विपक्ष के हंगामे को देखते हुए लोकसभा और राज्यसभा को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया।

इस बीच जीएसटी विधेयक पारित कराना सुनिश्चित करने को उत्सुक सरकार ने संसद सत्र को फिर से बुलाने का विकल्प खुला रखा है। राजनीतिक मामलों पर कैबिनेट समिति ने दोनों सदनों को अनिश्चित काल के लिए स्थगित करने के तत्काल बाद ही इसका सत्रावसान करने की सिफारिश नहीं करने का निर्णय किया।

सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस के साथ कुछ विपक्षी दलों की ओर से विभिन्न मुद्दों पर व्यवधान डाले जाने के कारण तीन सप्ताह तक कोई खास कामकाज नहीं होने के मद्देनजर मानसून सत्र को फिर से बुलाने का निर्णय किया गया और यह इस बात पर निर्भर करेगा कि विवादास्पद जीएसटी विधेयक पर अन्य दलों के साथ सरकार कितना आगे बढ़ पाती है।

India