यूपी के सरकारी अस्पतालों में अब मुफ्त अल्ट्रासाउंड

यूपी के सरकारी अस्पतालों में अब मुफ्त अल्ट्रासाउंड

मुख्यमंत्री ने किया 60 नये नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों का  लोकार्पण

लखनऊ: मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राजकीय चिकित्सालयों में 01 सितम्बर, 2015 से निःशुल्क अल्ट्रासाउण्ड की सुविधा देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग सीधे जनता से जुड़ा विभाग है। इसलिए सरकार गरीबों को मुफ्त इलाज की सुविधा देकर उनकी सेवा करने का हर सम्भव प्रयास कर रही है। वर्तमान सरकार से पूर्व यह विभाग काफी बदनाम हो चुका था। उन्होंने इस बात पर खुशी जाहिर की कि विगत लगभग साढ़े तीन वर्षों में तमाम कमियों को दूर कर इस विभाग को प्रदेश की जनता के लिए उपयोगी एवं राहत पहुंचाने वाले विभाग में तब्दील किया गया है। 

मुख्यमंत्री आज अपने सरकारी आवास पर 100 शैय्यायुक्त मण्डलीय चिकित्सालय, दर्शन नगर (फैजाबाद) तथा विभिन्न जनपदों में स्थापित 60 नये नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के लोकार्पण के बाद अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यदि वर्तमान एवं पूर्ववर्ती राज्य सरकारों के कार्यकाल में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की स्थिति की तुलना की जाए तो, वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान दी जा रही सेवाओं एवं कार्यों का फर्क स्वतः ही स्पष्ट हो जाएगा। वर्तमान में जनता के बीच लोकप्रिय ‘108‘ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा के तहत संचालित एम्बुलेंस पिछली राज्य सरकार के कार्यकाल में धूप-पानी में बर्बाद हो रही थीं, जिन्हें चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री अहमद हसन के नेतृत्व में चलाने का काम किया गया। सरकार इस वर्ष एम्बुलेंस बेड़े का और अधिक विस्तार करने जा रही है। 

श्री यादव ने कहा कि राजकीय चिकित्सालयों में मुफ्त जांच एवं दवाओं की व्यवस्था, इलाज के लिए विशेषज्ञों की तैनाती तथा एम्बुलेंस आदि सेवाओं के फलस्वरूप लोगों का विश्वास सरकारी अस्पतालों की तरफ बढ़ा है। इसीलिए राजकीय अस्पतालों में इलाज कराने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ी है। इस कड़ी में निःशुल्क अल्ट्रासाउण्ड की सुविधा से जनता और विशेष रूप से आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को राहत मिलेगी। 

श्री यादव ने कहा कि राज्य सरकार के कार्यों के प्रति एक सकारात्मक सोच पूरे प्रदेश में बनी है। राज्य सरकार की समाजवादी पेंशन योजना, ‘108’ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा तथा ‘102’ नेशनल एम्बुलेंस सर्विस, निःशुल्क लैपटाॅप वितरण एवं कन्या विद्या धन आदि योजनाएं काफी लोकप्रिय हैं। लखनऊ मेट्रो परियोजना को तेजी से पूरा किया जाएगा। राज्य सरकार के स्तर से इस परियोजना के सम्बन्ध में समस्त औपचारिकताएं पूरी कर ली गई थीं। इसीलिए केन्द्र सरकार को पी0आई0बी0 की स्वीकृति देनी पड़ी। 

इससे पूर्व, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री अहमद हसन ने कहा कि गरीबों को इलाज की बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए विभाग कोई कोर कसर बाकी नहीं रखेगा। 

विचार व्यक्त करने वालों में समाज कल्याण मंत्री अवधेश प्रसाद, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री शंखलाल मांझी तथा नितिन अग्रवाल, फैजाबाद के विधायक पवन पाण्डेय, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अरविन्द कुमार भी थे। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India