वैट नीति वापस ले अखिलेश सरकार: खत्री

वैट नीति वापस ले अखिलेश सरकार: खत्री

लखनऊ: केन्द्र की मोदी सरकार एवं प्रदेश की अपने को समाजवादी कहने वाली उत्तर प्रदेश सरकार दोनों सरकारें प्रदेश की जनता पर लगातार मंहगाई का बोझ बढ़ा रही है। वैट का जो तरीका प्रदेश सरकार ने अपनाया है उससे पेट्रोल और डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी होगी और उस बढ़ोत्तरी से सभी वस्तुओं की मंहगाई बढ़ना स्वाभाविक है। उ0प्र0 कांग्रेस मंहगाई के खिलाफ इन दोनों सरकारों के खिलाफ आन्दोलन और तेज करेगी।

उत्तर प्रदेश कंाग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डाॅ0 निर्मल खत्री ने कहा कि आज प्रदेश में जंगलराज कायम है। कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं बची है। यादव सिंह जैसे काण्डों से प्रदेश की जनता अपने को ठगा हुआ महसूस कर रही है।

डाॅ0 खत्री ने कहा कि एक तरफ जहां मोदी सरकार की आम जनता के प्रति उदासीनता और ढुलमुल रवैये के चलते अंतर्राष्ट्रीय बाजार में पेट्रोलियम पदार्थ के दामों में प्रति बैरल कमी आने पर भी तेल कम्पनियां उपभोक्ताओं को उसका लाभ नहीं दे रही हैं। वहीं उत्तर प्रदेश सरकार ने वैट की नीति इस तरह बना दी है कि उपभोक्ता लगातार मंहगाई की मार से परेशान रहेगा। इतना ही नहीं रोज-मर्रा की वस्तुओं के दामों में और भी अधिक तेजी से बेतहाशा वृद्धि होगी तथा किसानों पर इसका सर्वाधिक विपरीत प्रभाव पड़ेगा क्योंकि सिंचाई के लिए उसे और अधिक आर्थिक कठिनाइयों से जूझना पड़ेगा। 

डाॅ0 खत्री ने मांग की है कि प्रदेश सरकार वैट की वर्तमान नीति को अविलम्ब वापस ले।

Lucknow, Uttar Pradesh, India