दरिंदगी: बच्चों की लाशों के साथ करता था सेक्स

दरिंदगी: बच्चों की लाशों के साथ करता था सेक्स

15 वारदातों को अंजाम देने वाले हैवान ने किया दिल दहलाने वाला खुलासा 

नई दिल्ली: दक्षिण दिल्ली में पिछले हफ्ते एक छह साल की बच्ची की हत्या के संदेह में गिरफ्तार 23 साल का बस क्लीनर रवीन्द्र कुमार ने पुलिस के सामने जो खुलासा किया वह दिल दहलाने वाला है। उसने बताया कि वह कैसे बच्चों को लालच देकर फुसलाता था और उसकी हत्या कर लाशों के साथ अपनी यौन इच्छाओं की पूर्ति करता था।

पुलिस के अनुसार वह मासूमों को चॉकलेट के बहाने सुनसान इलाके में ले जाता, उनके साथ बलात्कार करता और फिर उनकी हत्या कर देता। रवीन्द्र  ने बताया है कि ज्यादतर मामलों में वो पहले बच्चों की हत्या कर देता था और उसके बाद उसके साथ बलात्कार करता था। पुलिस को शक है कि अब तक 15 वारदातों को अंजाम देने की बात कबूल रहे रवीन्द्र ने इस तरह की कई और घटनाओं को अंजाम दिया है। पुलिस के मुताबिक ज्यादातर मामलों में बच्चों को सुनसान जगह पर ले जाकर पहले उनकी हत्या करता और फिर बलात्कार की घटना को अंजाम देता था। रविंदर बच्चे और बच्चियों दोनों को ही शिकार बनाता था। पूछताछ के दौरान उसने बताया कि पहचान छिपाने और बच्चों के रोने की वजह से उनकी हत्या कर देता था।

पुलिस के मुताबिक आरोपी रवीन्द्र ने 2008 में पहली वारदात को अंजाम दिया था, तब उसकी उम्र करीब 16 साल रही होगी। 2009 में उसने विजय विहार में सात साल के बच्चे की हत्या कर उसके साथ रेप किया। 2011 में उसने कंझावला और मुंडका में तीन साल और दो साल की बच्चियों को अपना शिकार बनाया। 2013 में रविंदर अलीगढ़ में अपने रिश्तेदार के यहां शादी समारोह में शामिल होने गया था, वहां उसने पांच बच्चों के साथ रेप किया। अलीगढ़ में ही उसने एक बच्चे की हत्या की थी, इस मामले में वहां मुकदमा भी दर्ज किया गया।

पुलिस उपायुक्त विक्रमजीत सिंह ने कहा कि उत्तरप्रदेश के बदायूं के रहने वाले रवीन्द्र कुमार ने जांचकर्ताओं को बताया कि वह दिल्ली, एनसीआर और पश्चिमी उत्तरप्रदेश की बच्चियों को निशाना बनाता था। कुमार फिलहाल बाहरी दिल्ली के उत्सव विहार के कराला में रहता है। सिंह ने कहा, पूछताछ के दौरान उसने (कुमार) अपराध के बारे में स्वीकार किया और यह भी खुलासा किया कि उसने 2009 से अब तक कम से कम 14 बच्चियों का यौन उत्पीड़न और हत्या की है। उन्होंने कहा, हमने उसे कई पीड़िता के फोटोग्राफ दिखाए, उसने एक फोटोग्राफ की पहचान की जो समयपुर बादली की लड़की थी। उसने 2012 में उस लड़की से बलात्कार के बाद उसकी हत्या कर दी। उन्होंने कहा कि कुमार बच्चियों को चॉकलेट और धन देकर लुभाता था।

पुलिस ने कहा कि वह आरोपी का मनोवैज्ञानिक जांच कराएगी। सिंह ने कहा, उसकी ब्रेन मैपिंग भी होगी। कुमार को रविवार को बाहरी दिल्ली के बेगमपुर इलाके से छह वर्ष की एक बच्ची की बलात्कार के बाद हत्या के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था। लड़की 14 जुलाई से लापता थी और इसके बाद बेगमपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

India