ईद पर खूब गुलज़ार हुआ लखनऊ जू 12,800 दर्शक पहुंचे

ईद पर खूब गुलज़ार हुआ लखनऊ जू 12,800 दर्शक पहुंचे

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव के निर्देशानुसार प्रदेश सरकार द्वारा प्राणि उद्यानों के विकास के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे हैं, ताकि वन्य जीवों को संरक्षण दिया जा सके और दर्शकों को आकृष्ट भी किया जा सके। इसके चलते लखनऊ प्राणि उद्यान, जो अब नवाब वाजिद अली शाह प्राणि उद्यान के नाम से जाना जाता है, में सुविधाओं का काफी विस्तार हुआ, जिसके कारण इस वर्ष ईद के मौके पर रिकाॅर्ड संख्या में दर्शक प्राणि उद्यान पहुंचे। 

इस वर्ष ईद (18 जुलाई, 2015) के मौके पर प्राणि उद्यान में 12,800 दर्शक पहुंचे, जबकि वर्ष 2013 में ईद के अवसर पर 7,400 दर्शक पहुंचे थे और वर्ष 2014 में 9,300 दर्शकों ने प्राणि उद्यान में अपनी आमद दर्ज कराई थी। ईद के अगले दिन टर्र के अवसर पर भी दर्शकों की आमद में इजाफा हुआ है। वर्ष 2013 में इस अवसर पर 20,255 दर्शक प्राणि पहुंचे थे। वर्ष 2014 में 15,990 दर्शक ही आए थे, जबकि जुलाई, 2015 में टर्र के अवसर पर 25,192 दर्शकों ने आमद दर्ज कराई। प्राणि उद्यान में इतनी अधिक संख्या में दर्शकों के पहुंचने के बाद भी वहां शान्ति व्यवस्था बहाल रही और लोगों ने उपलब्ध सुविधाओं का जमकर लुत्फ उठाया। 

मुख्यमंत्री ने फरवरी 2014 में लखनऊ प्राणि उद्यान में नई बाल रेल का शुभारम्भ किया था, जबकि कानपुर प्राणि उद्यान में भी अक्टूबर, 2014 में नई बाल ट्रेन का लोकार्पण उनके द्वारा किया गया था। उन्होंने प्राणि उद्यानों में दर्शकों को अधिक से अधिक सुविधाएं उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए थे। 

नवाब वाजिद अली शाह प्राणि उद्यान के निदेशक श्री अनुपम गुप्ता ने यह जानकारी आज यहां देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशों के क्रम में लखनऊ प्राणि उद्यान में 06 बैटरी आॅपरेटेड वाहन चलाए गए हैं। साथ ही, दर्शकों के लिए विजि़टर्स शेड तथा आरामदेह बेंचों की भी स्थापना की गई है। उन्होंने कहा कि विकलांगजनों के लिए निःशुल्क व्हील चेयर तथा छोटे बच्चों के लिए निःशुल्क प्रैम की भी व्यवस्था की गई है। इसके अलावा, चिडि़याघर के तीनों प्रवेश द्वारों का भी सौन्दर्यीकरण किया गया है।

प्राणि उद्यान की तरफ बच्चे सर्वाधिक आकर्षित होते हैं, अतः इसको ध्यान में रखते हुए उनके लिए प्राणि उद्यान में एक झूला पार्क भी विकसित किया गया है। साथ ही, दर्शकों की सुविधा के लिए नए फूड कोर्ट की भी स्थापना की गई है, जिसमें 10 दुकानें मौजूद हैं। दर्शकों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 14 जगहों पर आर0ओ0 वाॅटर कूलर्स स्थापित किए गए हैं। जबकि 02 स्थानों पर सादे आर0ओ0 लगाए गए हैं। साथ ही, 06 नए टाॅयलेट ब्लाॅक्स भी बनवाए गए हैं।

प्राणि उद्यान में स्थित मछली घर का भी सौन्दर्यीकरण किया गया है। चिडि़याघर में स्थित बाड़ों का भी सौन्दर्यीकरण किया गया है और पैदल पथ पर पीबल्स (टाइल्स) लगाए गए हैं। वातावरण को सुरम्य बनाने के लिए प्राणि उद्यान के अन्दर 06 स्थानों पर फव्वारे भी लगाए गए हैं। चिडि़याघर में नई कार पार्किंग की भी स्थापना की गई है, जिसमें लगभग 80 कारें खड़ी की जा सकती हैं।

Lucknow, Uttar Pradesh, India