भारी पड़ा मुलायम से बैर

भारी पड़ा मुलायम से बैर

IPS अफसर अमिताभ ठाकुर पर रेप का केस दर्ज

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के खिलाफ धमकी देने की शिकायत करने वाले आइपीएस अफ़सर अमिताभ ठाकुर के ख़िलाफ़ रेप का मुक़दमा दर्ज़ किया गया है। ग़ाज़ियाबाद की एक महिला ने शिकायत की है कि 31 दिसंबर 2014 को रात 8 बजे वो नौकरी मांगने अमिताभ ठाकुर के घर गई थी। उस समय अमिताभ की पत्नी उसे अपने घर लेकर गई थी, जहां अमिताभ ठाकुर ने उनके साथ बलात्कार किया।

ठाकुर ने एक मामले में यूपी के खनन मंत्री गायत्री प्रजापति के ख़िलाफ़ FIR दर्ज करवाई थी। उनका कहना है कि चूंकि उन लोगों ने खनन मंत्री गायत्री प्रजापति के ख़िलाफ़ लोकायुक्त में शिकायत की हुई है, इसलिए उन्होंने दो महिलाओं की तरफ़ से उनके ख़िलाफ़ फ़र्ज़ी FIR दर्ज़ करवाई है। अमिताभ ठाकुर के ख़िलाफ़ पहले से ही दाख़िल उसी शिकायत पर उनके ऊपर रेप का और उनकी पत्नी पर रेप की साज़िश करने का मुक़दमा दर्ज कर लिया गया है।

इससे पहले मुलायम सिंह यादव द्वारा टेलीफोन पर कथित रूप से धमकाने का आरोप लगाने वाले वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी ने शनिवार को उनके खिलाफ लखनऊ की हजरतगंज कोतवाली में शिकायत दी।

शिकायतकर्ता पुलिस महानिरीक्षक (नागर सुरक्षा) अमिताभ ठाकुर ने बताया, ‘मुझे लगा कि मुझे इस मामले में स्टैंड लेना चाहिए। इसलिए मैंने सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में शिकायत दी है।’ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजेश पाण्डेय ने बताया कि अमिताभ और सपा मुखिया के कथित वार्तालाप वाले टेप की सत्यता की जांच के बाद इस मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि अमिताभ ने शुक्रवार रात मीडिया को एक टेप जारी किया था, जिसमें कथित रूप से मुलायम सिंह यादव को उन्हें सुधर जाने अन्यथा गम्भीर परिणाम भुगतने की धमकी देते हुए सुना गया था।

अमिताभ की पत्नी तथा सामाजिक कार्यकर्ता नूतन ठाकुर ने आरोप लगाया कि जब उनके पति हजरतगंज कोतवाली में सपा मुखिया के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने गए तो कोतवाल विजयमल यादव ने शिकायत लेने से इनकार कर दिया।

उन्होंने बताया कि अमिताभ के जोर देने पर कोतवाल ने शिकायत ले ली और कहा कि मामले की जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। नूतन ने दावा किया कि उन्हें लगता है कि इस धमकी के पीछे उनके द्वारा खनन मंत्री गायत्री प्रजापति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराना मुख्य कारण है।

इस बीच, सपा नेता सीपी राय ने आईपीएस अफसर के आरोपों को गलत बताते हुए कहा था कि उन्होंने कोई टेप नहीं सुना है, लेकिन ऐसा लगता है कि उसमें सपा मुखिया की बनावटी आवाज है। मुलायम देश के वरिष्ठ नेता हैं, वह उन्हें 30 साल से जानते हैं। वह किसी को इस तरह धमका नहीं सकते।

Lucknow, Uttar Pradesh, India