रालोद भर्ती प्रक्रिया में धांधली का लगाया आरोप, राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन

रालोद भर्ती प्रक्रिया में धांधली का लगाया आरोप, राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन

लखनऊ। उ0प्र0 में भर्ती प्रक्रिया में की जा रही धांधली की सी0बी0आई0 जांच कराने की मांग को लेकर रालोद ने आज राज्यपाल से मिलकर ज्ञापन सौंपा। 

प्रतिनिधि मण्डल ने ज्ञापन में अवगत कराते हुये कहा कि उ0प्र0 की सरकारी भर्तियांे में सरेआम अनियमितता बरती जा रही है। भर्ती प्रक्रिया के बनाये गये चारो आयोग भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुके हैं। प्रदेश  मंे की गयी भर्तियों में क्षेत्र व वर्ग विशेष  का बोलबाला है, चयनित अभ्यर्थियों की सूची देखने में व्यवहारिक रूप से लगता है कि सूची पक्षपातपूर्ण ढंग से बनायी गयी है। पुलिस भर्ती प्रक्रिया के लिखित परीक्षा के परिणाम में प्रकाश  में आयी अनियमितता जग जाहिर है। सफेदा लगे हुये व ब्लेड से खुरचकर ओवरराइट किये हुये परिणाम को लेकर उच्च न्यायालय ने भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगा दिया है। ऐसे में मंत्रिमण्डल की बैठक में ग्राम पंचायत अधिकारी के चयन प्रक्रिया में लिखित परीक्षा न कराने का प्रस्ताव पारित करके भ्रष्टाचार को और बढ़ाने का मार्ग प्रशस्त किया है साथ ही आगे से होने वाली पुलिस भर्ती प्रक्रिया में भी लिखित परीक्षा न कराने का निर्णय भी भ्रष्टाचार से ग्रसित है। 

प्रतिनिधि मण्डल ने ज्ञापन में अवगत कराते हुये आगे कहा कि माध्यमिक शिक्षा चयन अयोग द्वारा प्रतिवर्ष कराये जाने वाली टी0जी0टी0 व पी0जी0टी0 की परीक्षा सन् 2011 व 2012 का सत्र शून्य करते हुये सत्र 2013 की परीक्षा जनवरी  2015 में करायी गयी है जिसका परिणाम अभी तक नहीं आया है, 2014 व 2015 का सत्र भी शून्य होने की कगार पर है। इसी तरह मा0 उच्चतम न्यायालय के निर्देशों  के विपरीत शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को शिक्षक न बनाकर अपात्र अभ्यर्थियों को शिक्षक बनाकर भी न्यायालय की अवहेलना के साथ साथ पात्र अभ्यर्थियों के साथ अन्याय किया है। 

प्रतिनिधि मण्डल ने लाखों मेधावी छात्रों के भविष्य के साथ हो रहे खिलवाड़ के खिलाफ राज्यपाल से मांग करते हुये कहा कि माध्यमिक शिक्षा चयन आयोग, उच्च शिक्षा चयन आयोग, अधीनस्थ कर्मचारी सेवा चयन आयोग तथा लोक सेवा चयन आयोग द्वारा की गयी अनियमितताओं की सी0बी0आई0 जांच एवं त्रुटिपूर्ण भर्ती को निरस्त कराते हुये दोषियों के विरूद्व सख्त कार्यवाही की जाय साथ ही बिना लिखित परीक्षा कराये किये जाने वाली भर्तियों की चयन प्रक्रिया पर रोक लगाते हुये प्रदेश  में भर्ती को पारदर्शी  बनाने हेतु ठोस कदम उठाने का मार्ग प्रषस्त करें। 

प्रतिनिधि मण्डल में प्रदेश अध्यक्ष मुन्ना सिंह चौहान के अतिरिक्त राष्ट्रीय प्रवक्ता डाॅ0 मसूद अहमद, राष्ट्रीय सचिव अनिल दुबे राष्ट्रीय लोकदल मध्य उ0प्र0 के अध्यक्ष राकेश  कुमार सिंह मुन्ना, प्रदेश  महासचिव हाजी वसीम हैदर मौजूद थे। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India