जाति विशेष के दरोगा को बचा रही है सपा सरकार

जाति विशेष के दरोगा को बचा रही है सपा सरकार

उत्तरप्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाने के लिए सही समय : मायावती

लखनऊ । बाराबंकी के पुलिसवालों पर महिला को जिंदा जलाने के मामले में बीएसपी प्रमुख मायावती ने सपा सरकार पर हमला बोला है। इसे लेकर आज मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि यूपी में जंगलराज कायम हो गया है।  मायावती ने आज एक प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि यह समय उत्तरप्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाने के लिए बिल्कुल अनुकूल समय है।  उन्होंने कहा कि राज्य की अखिलेश यादव सरकार एक जाति विशेष यादव के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार के कार्यकाल में राज्य में लोगों को जिंदा जलाया जा रहा है। 

मायावती ने कहा कि सपा के गुंडे, माफिया, कार्यकर्ता और उच्च पदों पर बैठे हैं और इसकी वजह से यूपी की कानून व्यवस्था चरमरा गई है। यहां जंगलराज की स्थिति पैदा हो गई है। मायावती ने आरोप लगाया है कि बाराबंकी केस में एक विशेष जाति का होने के कारण दरोगा को बचाया जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि मैं यादव समाज की विरोधी नहीं हूं और चाहती हूं कि वे सरकारी नौकरियों व अन्य क्षेत्र में आगे बढें, लेकिन सरकार को सिर्फ एक जाति विशेष के लिए काम नहीं करना चाहिए, उन्होंने कहा कि कल प्रदेश में जिस महिला की आग लगाने से मौत हुई, उसमें दोषी पुलिस कर्मी यादव जाति का है और सरकार  उसे बचा रही है। 

मायावती ने मांग की कि सपा सरकार को बर्खास्त करने का काम राज्यपाल करें वरना उन्हें भी जनता सपा प्रमुख के साथ माफ नहीं करेगी। बीजेपी के सांसदों को आए दिन किस्म-किस्म के नाटक करने के बजाय अपनी केंद्र सरकार पर दबाव बनाकर यहां राष्ट्रपति शासन लगाने का काम करना चाहिए।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में पुलिसवालों पर थाने के अंदर एक महिला को जिंदा जलाने का आरोप लगा है। ये दिल दहला देने वाली घटना बाराबंकी के कोठी केसरगंज पुलिस थाने में ही हुई थी। आरोप है कि महिला को जलाने से पहले थाने के अंदर थानाध्यक्ष राय साहब यादव और दारोगा अखिलेश राय ने महिला के साथ रेप करने की भी कोशिश की थी।