कांग्रेस में आर्थिक संकट, कार्यकर्ताओं से माँगा योगदान

कांग्रेस में आर्थिक संकट, कार्यकर्ताओं से माँगा योगदान

नई दिल्ली: कांग्रेस कार्यकर्ताओं को अब पार्टी को सालाना 250 रुपये का योगदान देने को कहा जाएगा, ताकि पैसे की कमी से जूझ रही पार्टी को उबारा जा सके।

कांग्रेस कोषाध्यक्ष मोतीलाल वोरा ने पीटीआई से कहा कि हर कार्यकर्ता को हर साल योगदान देने को कहा जाएगा, क्योंकि पार्टी ने खुद को आत्मनिर्भर बनाने की योजना बनाई है।

कांग्रेस नेता ने बताया कि चंदे का 25 फीसदी हिस्सा प्रदेश कांग्रेस समितियों को जाएगा और 75 फीसदी हिस्सा अखिल भारतीय कांग्रेस समिति को। उन्होंने संकेत दिया कि अभी सदस्यता अभियान चल रहा है, उसके पूरा हो जाने पर इस योजना को अमल में लाया जाएगा। पार्टी का सांगठनिक चुनाव पिछले महीने शुरू होने वाला था, लेकिन उसे अगले आदेश तक स्थगित कर दिया गया है।

फिलहाल हर पार्टी सांसद एवं विधायक को एक महीने का अपना वेतन पार्टी को देना होता है, जबकि एआईआईसीसी सदस्य को 600 रुपये सालाना पार्टी कोष में देना होता है। पीसीसी सदस्य को 300 रुपये प्रदेश इकाइयों को चंदा देना होता है। नए नियम में सभी प्रदेश इकाइयों को प्राप्त चंदे का 50 फीसदी हिस्सा जिला इकाइयों को देना अनिवार्य बनाया गया है।