अजिंक्य को टीम की कमान, सीनियर्स को आराम

अजिंक्य को टीम की कमान, सीनियर्स को आराम

ज़िम्बाब्वे दौरे के लिए भारत ने किया बी टीम का एलान 

नई दिल्ली : अनुभवी आफ स्पिनर हरभजन सिंह ने चार साल के बाद आज एकदिवसीय टीम में वापसी की जबकि चयनकर्ताओं ने जिम्बाब्वे के अगले महीने के दौरे के लिये कई सीनियर खिलाड़ियों को विश्राम देकर दूसरी श्रेणी की टीम का चयन किया। विकेटकीपर बल्लेबाज रोबिन उथप्पा ने भी वनडे टीम में वापसी की जबकि तेज गेंदबाज संदीप शर्मा और लेग स्पिनर कर्ण शर्मा को भी अंजिक्य रहाणे की अगुवाई वाली टीम में शामिल किया गया है।

सलामी बल्लेबाज मुरली विजय, अंबाती रायुडु और भुवनेश्वर कुमार उन सीनियर खिलाड़ियों में शामिल हैं जिन्हें दौरे के लिये चुना गया है। चयन समिति की बैठक के बाद बीसीसीआई सचिव अनुराग ठाकुर ने यहां टीम की घोषणा की। पिछले कुछ समय से चोटों से जूझ रहे मनोज तिवारी की वापसी हुई है। उन्हें सीनियर खिलाड़ियों की अनुपस्थिति का फायदा मिला है।

चयन समिति के अध्यक्ष संदीप पाटिल ने पत्रकारों से कहा, ‘भारतीय टीम ने बांग्लादेश में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया। हमें भी ऐसा लगता है लेकिन हमें आगे के बारे में सोचना है। हमने 2016 टी-20 विश्व कप को ध्यान में रखकर इस टीम का चयन किया है। ’ उन्होंने कहा, ‘हमने विश्व कप के लिये भी सर्वश्रेष्ठ टीम का चयन किया था और भविष्य की श्रृंखलाओं को ध्यान में रखते हुए चाहे वह श्रीलंका दौरा हो या दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू श्रृंखला या ट्वेंटी -20 विश्व कप या आस्ट्रेलिया सीरीज, हमने कुछ खिलाड़ियों को विश्राम देने का फैसला किया है जिन्हें विश्राम की सख्त जरूरत थी। ’

जिम्बाब्वे दौर के लिये भारत ने अपनी टीम में हरभजन, अक्षर पटेल और कर्ण शर्मा के रूप में तीन विशेषज्ञ स्पिनर रखे हैं। तेज गेंदबाजी विभाग की जिम्मेदारी भुवनेश्वर कुमार, मोहित शर्मा, संदीप शर्मा और स्टुअर्ट बिन्नी संभालेंगे। पाटिल ने बांग्लादेश दौरे में टेस्ट टीम में वापसी करने वाले हरभजन के बारे में कहा, ‘हम यह नहीं कह सकते कि यह लंबे समय के लिये है लेकिन पिछली श्रृंखला में हरभजन के प्रदर्शन को देखते हुए हमें लगा कि वह इस दौरे में मौके का हकदार है। ’ उन्होंने कहा, ‘चयनकर्ताओं का काम सर्वश्रेष्ठ उपलब्ध टीम का चयन करना है। बाकी टीम प्रबंधन पर निर्भर करता है। एक बार जब हम टीम का चयन कर देते हैं तो फिर अंतिम एकादश का चयन करना कप्तान का काम होता है। ’ बल्लेबाजी विभाग की जिम्मेदारी रहाणे, विजय, रायडु, तिवारी, मनीष पांडे और केदार जाधव पर रहेगी। बीसीसीआई सचिव ठाकुर ने कहा, ‘‘यह अच्छी टीम है और युवा खिलाड़ियों का चयन करना आगे बढ़ना है। ’

अधिकतर सीनियर खिलाड़ियों जैसे वनडे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी, टेस्ट कप्तान विराट कोहली, सलामी बल्लेबाज शिखर धवन, रोहित शर्मा, आफ स्पिनर आर अश्विन आदि को इस श्रृंखला के लिये विश्राम दिया गया है। रहाणे को कप्तानी सौंपे जाने के बारे में पाटिल ने कहा, ‘‘उनका करियर जिस तरह से आगे बढ़ रहा है उससे हम खुश हैं। वह निरंतर अच्छा प्रदर्शन करने वाले भारतीय बल्लेबाजों में शामिल है और हम उनकी दूसरी क्षमताओं को भी देखना चाहते हैं। इसलिए हमने उन्हें यह मौका दिया और हम उनका समर्थन करते रहेंगे।’

सीरीज के सभी मैच हरारे में खेले जाएंगे। टीम इंडिया को मेजबान टीम के खिलाफ पहले तीन वन-डे इंटरनेशनल मैच खेलने हैं, जो 10, 12 और 14 जुलाई को होंगे, और उसके बाद 17 तथा 19 जुलाई को दोनों टीमें टी-20 मैच खेलेंगी।

टीम इस प्रकार है : अजिंक्य रहाणे ( कप्तान ), मुरली विजय, अंबाती रायडु, मनोज तिवारी, केदार जाधव, रोबिन उथप्पा, मनीष पांडे, हरभजन सिंह, अक्षर पटेल, कर्ण शर्मा, धवल कुलकर्णी, स्टुअर्ट बिन्नी, भुवनेश्वर कुमार, मोहित शर्मा और संदीप शर्मा।