रजा लाइब्रेरी के कर्मचारियों को योग न करने पर मिला नोटिस

रजा लाइब्रेरी के कर्मचारियों को योग न करने पर मिला नोटिस

रामपुर। उत्तर प्रदेश में रामपुर की रजा लाइब्रेरी के निदेशक अजीजउद्दीन हुसैन ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस में शामिल न होने पर अपने सात मुस्लिम कर्मचारियों को नोटिस भेजा है कि वे इस आयोजन में क्यों शामिल नहीं हुए। इस नोटिस पर कुछ स्टाफ ने चिकित्सीय हवाला देते हुए कार्यक्रम में शामिल न होने की बात कही है जबकि कुछ ने निजी तौर पर बताया कि रमजान के महीने में योग में शामिल होना वे उचित नहीं समझते।

रजा लाइब्रेरी की स्थापना 1774 में रामपुर के नवाब रजीउल्लाह खान ने की थी। इसके स्टाफ में कम से कम 30 सदस्य मुस्लिम हैं। सात मुस्लिम कर्मचारियों में दो महिलाएं भी हैं जिन्होंने योग दिवस के कार्यक्रम में भाग नहीं लिया। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर 60 कर्मचारियों को शामिल होना था। लाइब्रेरी के स्टाफ में कम से कम 30 मुस्लिम कर्मचारी है। लाइब्रेरीके साथ ही पास की दयावती स्कूल के बच्चों और अन्य लोगों ने भी इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया था।

नोटिस भेजे जाने के बारे में निदेश अजीजउद्दीन ने बताया कि, अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने के लिए सरकार ने नोटिफिकेशन भेजा था। इस दौरान सात कर्मचारी गैर मौजूद रहे और यह आपत्तिजनक है। यह लाइब्रेरी भारतीय उपमहाद्वीप की प्राचीन संस्कृति को सहेजने का काम करती है। योग भी भारतीय संस्कृति का हिस्सा है। इस तरह से कर्मचारियों का न आना बुरा संदेश देता है।

Uttar Pradesh, India