चार साल बाद दरोगा भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित

चार साल बाद दरोगा भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित

लखनऊ: तमाम जटिलताओं और कानूनी दांवपेच के बावजूद प्रदेश पुलिस में दरोगा और पीएसी में प्लाटून कमांडर के पद पर हुई भर्ती परीक्षा का परिणाम चार साल बाद घोषित कर दिया गया है।

पुलिस भर्ती बोर्ड के डीजी वीके गुप्ता द्वारा घोषित परिणाम में 3493 सब-इंस्पेक्टर और पीएसी में 291 प्लाटून कमांडर पास घोषित हुए हैं। इनमें सफल हुए 810 (750 सब-इंस्पेक्टर और 60 प्लाटून कमांडर) अभ्यर्थी शामिल नहीं हैं, जिन्होंने परीक्षा के दौरान या तो व्हाइटनर या फिर ब्लेड का इस्तेमाल कर सही उत्तर लिखे थे।

हाईकोर्ट ने 29 मई 2015 को आदेश दिया था कि दरोगा और प्लाटून कमांडर पद पर हुई भर्ती के नतीजे नए सिरे से घोषित किए जाएं। इसी आदेश के मुताबिक, पुलिस भर्ती बोर्ड ने परिणाम घोषित कर दिए हैं। पूरे परिणाम पुलिस भर्ती बोर्ड की वेबसाइट -http://uppbpb.gov.in पर उपलब्ध हैं।

डीजी वीके गुप्ता ने बताया कि नागरिक पुलिस में 3693 पदों के सापेक्ष सामान्य श्रेणी में 1774, अन्य पिछड़ा वर्ग में 928, अनुसूचित जाति श्रेणी में 722 और अनुसूचित जनजाति में 22 और अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थियों की अनुपलब्धता के कारण खाली रह गई सीटों पर अनुसूचित जाति के 47 सब-इंस्पेक्टर यानी कुल 3493 अभ्यर्थियों का चयन हुआ है। सब-इंस्पेक्टरों में 261 महिलाएं और 37 स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के आश्रित व 17 भूतपूर्व सैनिक के अभ्यर्थी शामिल हैं।

इसी तरह पीएसी में प्लाटून कमांडर के 312 पदों के सापेक्ष सामान्य श्रेणी में 145, पिछड़ा वर्ग श्रेणी में 78, अनुसूचित जाति श्रेणी में 62 और अनुसूचित जनजाति श्रेणी में अभ्यर्थियों की अनुपलब्धता के  कारण अनुसूचित जाति के के 6 अभ्यर्थियों यानी कुल 291 प्लाटून कमांडर चुने गए हैं।

Lucknow, Uttar Pradesh, India