देश के सबसे बड़े एक्सप्रेस-वे का सबसे बड़ा स्ट्रक्चर बनेगा उन्नाव का गंगा पुल: आशुतोष निरंजन

देश के सबसे बड़े एक्सप्रेस-वे का सबसे बड़ा स्ट्रक्चर बनेगा उन्नाव का गंगा पुल: आशुतोष निरंजन

लखनऊ:यूपीडा के अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी आशुतोष निरंजन ने आज उन्नाव के बांगर मऊ तहसील के अंतर्गत सिरधरपुर अहितमाली गांव पर गंगा नदी पर बनने वाले पुल के निर्माण की प्रगति का निरीक्षण मुख्य अभियंता यूपीडा विश्व दीपक के साथ किया। यह पुल प्रदेश की महत्वाकांक्षी परियोजना आगरा लखनऊ एक्सपे्रस-वे के लिए बनाया जा रहा है और देश के सबसे लम्बे एक्सप्रेस-वे का सबसे बड़ा स्ट्रक्चर साबित होगा। यह पुल गंगा के दूसरे छोर पर बहरामपुर (अरौल) घाट कानपुर को जोड़ेगा।

निरीक्षण के दौरान परियोजना से सम्बन्धित यूपीडा के अधिशासी अभिंयता, अफकाॅन्स इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड के प्रोजेक्ट मैनेजर,तथा अथॅारिटी इन्जीनियर उपस्थित थे। 

यूपीडा के अधिशासी अभिंयता द्वारा श्री आशुतोष निरंजन को अवगत कराया गया कि इस निर्माणाधीन गंगा सेतु की कुल लम्बाई 750 मीटर होगी जिसमें कुल 28 पियर्स तथा 4 अबटमेंट (दोनों छोर पर आधारभित्ति) का निर्माण किया जाना है जिसमें से 18 पियर्स के फांउडेशन का निर्माण कार्य प्रगति में है। यह सेतु 8 लेन का बनाया जाऐगा। निर्माण कार्य यथा प्रस्तावित गति  से चलाने के लिए मशीनरी का मोबलाइजेशन पूर्ण है। 

अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी द्वारा अब तक की प्रगति पर संतोष व्यक्त किया गया तथा उन्होंने निर्माण एजेंसी अफकाॅन्स इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड के प्रोजेक्ट मैनेजर को निर्देश दिए कि कार्य की प्रगति में तेजी लाते हुए आगामी 20 जुलाई के पूर्व पियर्स के फांउडेशन के निर्माण कार्य को सुरक्षित स्तर पर लाया जाए। अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी द्वारा परियोजना से सम्बन्धित कैम्प का भी निरीक्षण किया गया जिसमें उन्होनें बैचिंग प्लंाट, डब्लूएमएम प्लांट तथा हाॅटमिक्स प्लांट के मोबलाइजेशन किए जाने पर संतोष व्यक्त किया।

अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी द्वारा निर्देश दिए गये कि मुख्यमंत्री की प्राथमिकता वाली इस परियोजना में निर्माण कार्याें की गुणवत्ता से कोई समझौता न किया जाए तथा प्रत्येक दशा में निर्माण कार्यों को निर्धारित अवधि में पूर्ण किया जाए।

Lucknow, Uttar Pradesh, India