ऐतिहासिक इमामबाड़ों पर ताला बंदी जारी

ऐतिहासिक इमामबाड़ों पर ताला बंदी जारी

लखनऊ: शिया वक्फ बोर्ड में फैले भ्रष्टाचार, भ्रष्ट चेयरमैन को दोबारा चुने जाने और सरकार की नाइंसाफियों के खिलाफ शहर के दोनों ऐतिहासिक इमामबाड़ों पर ताला पड़ा और धरना जारी रहा। बड़े इमामबाड़े पर धरने पर बैठी अनजुमनों ने आज कहा कि हुसैनाबाद ट्रस्ट ने बहाना बनाकर मस्जिदों  मे  इफ्तार नहीं भेजी है जबकि ट्रस्ट को बताया जा चुका था कि छोटे इमाम बाडे का छोटा गेट और पिछला दरवाजा मौजूद है जिसकी चाबी ट्रस्ट के पास रहती है वहाँ से अंदर ट्राली जा सकती थी लेकिन समस्या दरअसल कुछ और है।  ट्रस्ट अपने नुकसान को इफ्तार की राशि बचाकर कुछ कम करना चाहता है।

उधर छोटे इमाम बाड़े पर महिलाओं का धरना 24 वंे दिन भी जारी रहा। महिलाओं में फातिमा बानो, कुरेशा बेगम और प्रवीण की हालत में अभी भी सुधार नहीं है ।तीनों महिला कई बार बलरामपुर हॉस्पिटल और सामरा अस्पताल में एडमिट रही हैं । उनका कहना है कि सरकार अपनी मनमानी और मुसलमानों के साथ नाइंसाफियां बंद करे और अल्पसंख्यकों को उनके अधिकार दे । शबी फातिमा ने कहा कि जब तक शिया वक्फ बोर्ड से वसीम रिजवी को हटाया नहीं जाएगा हमारा विरोध शांतिपूर्ण ढंग से जारी रहेगा।

 
Lucknow, Uttar Pradesh, India