बिहार के मोदी ने अधिकारियों को दी बदला लेने की धमकी

बिहार के मोदी ने अधिकारियों को दी बदला लेने की धमकी

पटना : सूबे के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने गुरुवार को राज्य सरकार पर विधान परिषद चुनाव में सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि जन प्रतिनिधियों को राजद-जदयू के प्रत्याशी के समर्थन में वोट देने का दबाव बनाया जा रहा है।  मनरेगा आदि से संबंधित मुकदमों में फंसाने की धमकी दी जा रही है।  साथ ही उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा, हम अधिकारियों को बता देना चाहते हैं कि सत्ताधारी दल को मदद करने वाले अधिकारियों से चुन-चुन कर बदला लिया जायेगा। 

सुशील मोदी पटना विप चुनाव के भाजपा प्रत्याशी भोला यादव के नामांकन के बाद एसके मेमोरियल हॉल में आयोजित सभा को संबोधित कर रहे थे।  मोदी ने कहा कि विजन रथ 2025 के माध्यम से आदर्श आचार संहिता का सरकार उल्लंघन कर रही है. चुनाव आयोग से उन्होंने इस पर रोक लगाने की मांग की।  मोदी ने कहा कि इसके विरोध में आयोग को ज्ञापन दिया जायेगा।  पंचायत प्रतिनिधियों को डेढ़-दो साल से भत्ता के भुगतान नहीं मिलने की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार से इसका हिसाब मांगा जाना चाहिए। 

अब चुनाव निकट आया है तो उन्हें पंचायत प्रतिनिधि याद आने लगे हैं।  मोदी ने कहा कि इस चुनाव में बाहुबली भी चुनाव लड़ेंगे, आपको तय करना होगा कि आपको किस प्रकार के जन प्रतिनिधि चाहिए, उन्होंने कहा कि विधान परिषद में हमें बहुमत नहीं है।  पूर्ण बहुमत के लिए हमें सभी 24 सीटों पर जिताइये, हमारे साथ राम विलास पासवान और उपेंद्र कुशवाहा हैं, हमें जीतन राम मांझी का भी आशीर्वाद प्राप्त है।