नाराज़ केजरीवाल तोमर की कर सकते हैं पार्टी से छुट्टी

नाराज़ केजरीवाल तोमर की कर सकते हैं पार्टी से छुट्टी

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के नेता व दिल्ली के पूर्व कानून मंत्री जीतेंद्र तोमर से फर्जी डिग्री मामले में अभी पूछताछ जारी है। मिली जानकारी के अनुसार तोमर को शुक्रवार को उनकी लॉ डिग्री की जांच के लिए बिहार लाया जा सकता है। इसी दौरान सूत्रों का कहना है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस विवाद से खुश नहीं है और पूर्व कानून मंत्री को आम आदमी पार्टी से बाहर निकाला जा सकता है।

इतना ही नहीं अब दिल्ली पुलिस का कहना है कि तोमर एक रेगुलर बीए स्टूडेंट थे। पुलिस के मुताबिक तोमर ने साल 1985-88 के बीच दिल्ली यूनिवर्सिटी के राजधानी कॉलेज से बीए किया था। ये वही कार्यकाल है जिसको लेकर तोमर दावा कर रहे हैं कि उन्होंने यूपी के फैजाबाद की डॉक्टर राम मनोहर लोहिया अवध यूनिवर्सिटी से बीएससी किया था। फर्जी डिग्री मामले में आए इस नए मोड़ की पुष्टि स्पेशल कमिश्नर ऑफ पुलिस ने दीपक मिश्रा ने की। उन्होंने कहा कि पुलिस अब इस एंगल से भी मामले की जांच कर रही है।

दूसरी ओर विश्वनाथ सिंह इंस्टीट्यूट ऑफ लीगल स्टडीज के प्रिंसिपल आरके मिश्रा ने दावा किया है कि तोमर ने इंस्टीट्यूट से तीन साल का एलएलबी एग्जाम पास किया है। माना जा रहा है कि दिल्ली पुलिस तोमर के दस्तावेजों की सच्चाई और सबूत जुटाने के लिए उन्हें मुंगेर ला सकती है। इस्टीट्यूट के प्रिंसिपल ने कहा, "दिल्ली के पूर्व कानून मंत्री तोमर ने विश्वनाथ सिंह इंस्टीट्यूट ऑफ लीगल स्टडीज, मुंगेर से एलएलबी एग्जाम पास किया है।"