नेपाल में फिर कुदरत का कहर, 32 की मौत

नेपाल में फिर कुदरत का कहर, 32 की मौत

काठमांडो : नेपाल पर प्राकृतिक आपदाओं के कहर का सिलसिला थम नहीं रहा है। ताजा घटना में नेपाल के पर्वतीय पूर्वोत्तर इलाके में मूसलाधार बारिश के कारण हुए भारी भूस्खलन में छह गांव दब गए, जिससे कम से कम 32  लोगों की मौत हो गई।

माई रिपब्लिका ने कार्यवाहक मुख्य जिला अधिकारी सुरेन्द्र भट्टाराई के हवाले से बताया कि कल रात हुए इस भूस्खलन से ताप्लेजंग जिले के गांव प्रभावित हुए।

भट्टाराई ने बताया कि अधिकारी घायलों को बचाने के लिए हेलीकाप्टर भेजने की तैयारी कर रहे हैं। इस हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए लोगों की संख्या 10 पर पहुंच गई है और 12 अन्य लोग अभी लापता बताए जाते हैं।

पुलिस उपाधीक्षक शांति राज कोइराला ने बताया कि मौके पर तैनात एक पुलिस दल भूस्खलन के कारण वहां फंस गया है। हादसे में हताहतों की तादाद बढ़ सकती है क्योंकि भूस्खलन में दर्जनों मकान बह गए हैं। नेपाल में मानसून के मौसम में भारी बरसात के दौरान पर्वतीय क्षेत्रों में इस तरह के भूस्खलन की घटनाएं होना आम बात है।

नेपाल अभी मई में आए दो भीषण भूकंपों की त्रासदी के प्रभावों से जूझ रहा है, जिसमें नौ हजार से ज्यादा लोग मारे गए थे। यह आपदा अपने पीछे तबाही का एक पूरा मंजर छोड़ गई।