IFWJ ने उठाया पत्रकार जगेंद्र सिंह की हत्या का मामला

IFWJ ने उठाया पत्रकार जगेंद्र सिंह की हत्या का मामला

दोषियों की गिरफ्तारी और मृतक के परिजनों को 25 लाख रूपये की आर्थिक सहायता देने की मांग की 

नई दिल्ली: सोशल मीडिया के निडर पत्रकार जगेंद्र सिंह की हत्या मामले में देश के सबसे बड़े मीडिया संगठन IFWJ ने अखिलेश सरकार के दोषी मंत्री राममूर्ति यादव की बर्खास्तगी और गिफ्तारी की मांग की है। 

IFWJ के महासचिव श्री परमानन्द पाण्डेय ने शाह्जनपुर के निडर पत्रकार जगेंद्र सिंह की निर्मम हत्या की तीव्र भर्तसना करते हुव प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मांग की है कि इस मामले में दोषी मंत्री राम मूर्ति वर्मा और संलिप्त पुलिस अधिकारीयों के खिलाफ सख्त करवाई करते हुए उन्हें पद से बर्खास्त कर उनकी फौरी गिफ्तारी करे। श्री पाण्डेय ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मृतक पत्रकार के परिवार को कम से कम 25 लाख रूपये की आर्थिक सहायता देने की भी मांग कि। 

IFWJ महासचिव ने मीडिया संगठनो से अनुरोध किया कि वह अपने मतभेद भुलाकर पत्रकारों की एकता, सुरक्षा और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए एकजुटता दिखाएं 

उल्लेखनीय है पत्रकार जागेंद्र सिंह को जिंदा फूंक दिया गया था। उन्हें स्थानीय स्तर पर उपचार के बाद लखनऊ रेफर किया गया था। लखनऊ में इलाज के दौरान जगेंद्र की मौत हो गई थी। इस मामले में पीड़ित पक्ष ने अखिलेश सरकार के पिछड़ा वर्ग कल्याण राज्यमंत्री राममूर्ति वर्मा पर पत्रकार की हत्या का आरोप लगाया था। 

अखिलेश सरकार के मंत्री राममूर्ति वर्मा पर कुछ दिन पहले वक्फ की जमीन कब्जा करने का आरोप लगा था। शाहजहांपुर में मैनेजिंग कमेटी वक्फ के सचिव ने पिछड़ा वर्ग राज्यमंत्री पर सत्ता का दुरुपयोग कर जमीन पर कब्जा कराने का आरोप लगाया था। इस बाबत उन्होंने सीएम अखिलेश यादव को नोटिस भेजा था। आरोप, पिछड़ा वर्ग राज्य कल्याण मंत्री राममूर्ति वर्मा ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ता गुफरान और सलीम अख्तर के माध्यम से वक्फ की कोठी और आराजी को बिकवाना चाह रहे थे। 

India