पत्रकारों की आर्थिक स्थिति पर नक़वी चिंतित

पत्रकारों की आर्थिक स्थिति पर नक़वी चिंतित

पुणे। देश में मीडियाकर्मियों की कमजोर और असुरक्षित वित्तीय स्थिति के प्रति चिंता व्यक्त करते हुए केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि इससे ईमानदार, पारदर्शी और पेशेवर पत्रकारिता प्रभावित होती है। यहां पत्रकारों के लिए आयोजित एक समारोह नारद पुरस्कार को संबोधित करते हुए नकवी ने कहा कि भारत में मीडिया सर्वाधिक स्वतंत्र और शक्तिशाली है लेकिन मीडियाकर्मियों की कमजोर और असुरक्षित वित्तीय स्थिति चिंता की बात है।

उन्होंने कहा कि हमें मीडियाकर्मियों की वित्तीय स्थिति के बारे में गंभीरता से सोचना होगा, क्योंकि उन्होंने अपने कार्यो से समाज को सही दिशा दिखाई है। मीडिया की निगरानी की वजह से सरकारें पूर्ण सतर्कता के साथ काम करती हैं।

उन्होंने कहा कि भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है और मीडिया देश का सबसे महत्वपूर्ण स्तंभ है। इस स्तंभ की सुरक्षा, समृद्धि हमारी लोकतांत्रिक प्रणाली के हित में है। इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया के साथ सोशल मीडिया ने भी समाज में अपना स्थान बनाया है। उन्होंने पत्रकारों, विशेष रूप से युवा पत्रकारों से अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना जैसी केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने का आग्रह किया।

India