वन रैंक वन पेंशन: पूर्व सैन्यकर्मियों ने दी आंदोलन धमकी

वन रैंक वन पेंशन: पूर्व सैन्यकर्मियों ने दी आंदोलन धमकी

नई दिल्ली : पूर्व सैन्यकर्मियों ने शनिवार को राजग सरकार से वन रैंक वन पेंशन की सुविधा लागू करने के लिए एक निश्चित समयसीमा निर्धारित करने की मांगी की। पूर्व सैन्यकर्मियों ने कहा कि सरकार के ऐसा न करने पर वे व्यापक आंदोलन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे गए पत्र में पूर्व सैन्यकर्मियों ने जितना जल्दी हो सके वन रैंक वन पेंशन लागू करने की मांग की। 

सूत्रों के मुताबिक मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) सतबीर सिंह ने बताया, 'वन रैंक वन पेंशन के मुद्दे पर हमने रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर से मुलाकात की। बैठक में इस मसले का कोई अंतिम निर्णय नहीं हो सका। हम उनसे दोबारा मिलेंगे।'

उन्होंने आगे चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार यदि वन रैंक वन पेंशन लागू करने के लिए एक निर्धारित अवधि तय नहीं करती तो पूर्व सैन्यकर्मी 14 जून से आंदोलन शुरू करेंगे। 

इस बीच, भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी ने पूर्व सैन्यकर्मियों को भरोसा दिलाया कि सरकार निश्चित रूप से ओआरओपी की सुविधा लागू करेगी।

एएनआई के मुताबिक त्रिवेदी ने कहा, 'इसे लागू करने में थोड़ा समय लग सकता है लेकिन सरकार निश्चित रूप से ओआरओपी सुविधा लागू करेगी। सरकार वन रैंक वन पेंशन की नीति लागू करने के लिए प्रतिबद्ध है। पीएम मोदी ने भी इसके बारे में भरोसा दिलाया है।'

India