सरकार में उपेक्षित महसूस कर रहे हैं राजनाथ

सरकार में उपेक्षित महसूस कर रहे हैं राजनाथ

नई दिल्ली। गृह मंत्री राजनाथ सिंह मंत्री के रूप में आपने आप को सहज नहीं पा रहे और अब वापस संगठन में लौटना चाहते हैं। संघ सूत्रों के अनुसार राजनाथ सिंह ने हाल ही नागपुर में संघ प्रमुख से मुलाकात कर उन्हें अपनी इच्छा से अवगत कराया। संघ सूत्रों के अनुसार राजनाथ ने संघ प्रमुख मोहन भागवत को भी अपनी राय से अवगत कर दिया है।

इस दौरान उन्होंने सरकार और संगठन में प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और वित्त मंत्री अरूण जेटली के दबदबे और पार्टी व सरकार में अपने आप को नजरअंदाज किए जाने की बात कहते हुए हस्तक्षेप करने का आग्रह किया है। राजनाथ ने संघ प्रमुख से जम्मू-कश्मीर में मोदी, शाह और जेटली की जिद के चलते पीडीपी के साथ सरकार बनाने को संघ की विचारधारा से खिलवाड़ बताया। संघ भी महसूस कर रहा है कि यदि समय रहते कदम नहीं उठाए गए तो सरकार और संगठन में संघ की पूछ पूरी तरह खत्म हो जाएगी। राजनाथ का बचा हुआ कार्यकाल पूरा कर रहे अमित शाह को जनवरी 2016 में फिर से अध्यक्ष बनाने की मोदी की इच्छा पर संघ रूकावट डाल सकता है।

India