पाकिस्तान भारत में खेलना चाहता है अपनी अंतर्राष्ट्रीय सीरीज़

पाकिस्तान भारत में खेलना चाहता है अपनी अंतर्राष्ट्रीय सीरीज़

नई दिल्ली। पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी छह साल बाद हुई है, लेकिन अभी भी ज्यादातर टीमें पाकिस्तान जाकर क्रिकेट सीरीज खेलने से डरती हैं। इस सबके  के बीच पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चीफ शाहरयार खान का कहना है कि बोर्ड अंतरराष्ट्रीय सीरीज के लिए भारत को अपना "घर" बनाना चाहता है। खान ने बताया, "पीसीबी के पास बांग्लादेश और श्रीलंका से ऑफर है, लेकिन वह भारत को प्राथमिकता देना चाहता है, क्योंकि यह ज्यादा सस्ता पड़ेगा।"

गौरतलब है वर्ष 2009 में पाकिस्तान में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम की बस पर हुए आतंकी हमले के बाद से ही सभी टीमों ने पाकिस्तान में क्रिकेट खेलने का बहिष्कार कर दिया था। करीब छह साल बाद अब पाकि स्तान में जिम्बाब्वे टीम के साथ टी20 इंटरनेशनल सीरीज के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी हुई है। जब खान से पूछा गया कि भारत को क्रिकेट होम बनाने के पीछे क्या सुरक्षा एक कारण है तो उन्होंने क हा कि वे इस सेतु को भी पार कर लेंगे।

हालांकि बीसीसीआई ने पाकिस्तान को मदद करने की संभावना से इंकार नहीं किया है, लेकिन बोर्ड का कहना है कि कुछ समस्याएं ऐसी हैं जिन पर दोनों बोर्ड्स का कंट्रोल भी नहीं है। कोई फैसला लेने से पहले इन मुद्दों को देखना जरूरी है। बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "फिलहाल हमारा सारा ध्यान अगले साल देश में आयोजित होने वाले टी20 विश्व कप पर है, इसके अलावा टीम इंडिया इं टरनेशनल दौरों में सालभर व्यस्त रहने वाली है। हमें नहीं पता है कि हम ग्राउंड्स उपलब्ध करवा पाएंगे या नहीं।"

गौरतलब है कि 26/11 के मुंबई हमले के बाद से भारत ने पाकिस्तान से तमाम क्रिकेट करार तोड़ दिए थे। यही नहीं इसके बाद इंडियन प्रीमियर लीग से भी पाकिस्तानी खिलाडियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था।