कश्मीर की खूबसूरती पर फ़िदा हुए सलमान

कश्मीर की खूबसूरती पर फ़िदा हुए सलमान

सोनमर्ग (जम्मू-कश्मीर): कश्मीर को इस धरती की सबसे खूबसूरत जगह बताते हुए बॉलीवुड के सुपरस्टार सलमान खान ने कहा है कि फिल्मकार नासमझ हैं जो शूटिंग के लिए स्विट्जरलैंड जाते हैं, उन्हें तो घाटी में ही सबकुछ मिल सकता है।

सलमान ने कल शाम को संवाददाताओं से कहा, ‘कश्मीर एक खूबसूरत जगह है। मुझे इस जगह से प्यार है। हम मूर्ख हैं जो हम अपनी फिल्मों की शूटिंग के लिए स्विट्जरलैंड जाते हैं, जबकि हमें यहीं पर सबकुछ मिल सकता है। यहां ऐसी बहुत सी जगहें हैं, जिन्हें फिल्मों के जरिए खोजा जा सकता है।’ यहां कबीर खान की फिल्म ‘बजरंगी भाईजान’ की शूटिंग कर रहे सलमान ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को कश्मीर आना चाहिए, फिर चाहे वे फिल्में शूट करने के लिए आएं या छुट्टियां मनाने के लिए।

सलमान ने कहा, ‘लोगों को यहां आना चाहिए फिर चाहे वे फिल्मों के लिए आएं चाहे परिवार के साथ छुट्टियां मनाने या फिर अपने हनीमून पर। यह धरती की सबसे खूबसूरत जगह है। यहां के लोग बेहद भले, तहजीबदार, खूबसूरत और सीधे-सादे हैं। मुझे यहां रहने में बहुत आनंद आया और इंशा अल्लाह जल्दी ही यहां दोबारा आउंगा।’

सलमान ने कहा, ‘मैं सभी से गुजारिश करता हूं कि जिस तरह मैं यहां आया, उन्हें भी यहां आना चाहिए। अगर आपने कश्मीर नहीं देखा है, तो आपने कुछ भी नहीं देखा है।’’ उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं कि घाटी में पर्यटन फले-फूले और कश्मीर में फिल्म की शूटिंग करने के पीछे की प्रमुख वजह यही थी।

सलमान ने कहा, ‘‘मैं ‘दबंग’ के लिए भी यहां आना चाहता था लेकिन ऐसा हो न सका। यहां शूटिंग करने की हमारी प्रमुख वजह घाटी में पर्यटन को प्रोत्साहन देने की थी। हम यहां पूरे देश को, बाहरी देशों को यहां आमंत्रित करने के लिए आए हैं कि वे यहां आएं और इस खूबसूरत जगह को देखें।’’ हालांकि सलमान ने कश्मीर पर्यटन का ब्रांड अंबेसडर बनने के बारे में सीधे तौर पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

उन्होंने कहा, ‘देखो, यदि मुझे ब्रांड अंबेसडर बनना ही है तो मुझे पूरे भारत का ब्रांड अंबेसडर बनना है। हम राज्य दर राज्य इसे करेंगे। हमने ‘बजरंगी भाईजान’ की शूटिंग यहां की। हम वापस आएंगे और किसी और फिल्म की शूटिंग करेंगे। यह असल में ब्रांड अंबेसडर होना ही है।’

सलमान ने घाटी में सिनेमाघरों को दोबारा खोले जाने की भी वकालत की। राज्य में आतंकवाद के उभरने के बाद घाटी में सिनेमाघरों को बंद कर दिया गया था। सलमान ने कहा कि (यदि उन्हें दोबारा खोल दिया जाए तो) मुझे बहुत अच्छा लगेगा। उन्हें निश्चित तौर पर खोला जाना चाहिए क्योंकि यहां कई लोग हैं जो फिल्में देखते हैं। इन फिल्मों को वे या तो टीवी पर देखते हैं या पाइरेटेड डीवीडी के जरिए। दादा से लेकर पोते तक सभी फिल्में देखते हैं। निश्चित तौर पर यहां थियेटर होने चाहिए क्योंकि मुझे लगता है कि आप सबको फिल्मों और मनोरंजन से प्यार है और इसके लिए एक राजस्व का मॉडल भी होगा।’

जब उनसे घाटी में परिवार के साथ समय बिताने के बारे में पूछा गया तो सलमान ने कहा, ‘मेरी पूरी जिंदगी एक छुट्टी है। मैं उन सौभाग्यशाली लोगों में से एक हूं। मैं इस समय भी यहां छुट्टी पर ही हूं। मैं महज तीन से पांच घंटे के लिए काम करता हूं।’ सलमान ने कहा कि ‘बजरंगी भाईजा’ बेहद खूबसूरत और शांतिपूर्ण फिल्म है। उन्होंने कहा, ‘‘यह बहुत खूबसूरत फिल्म है, बहुत शांतिपूर्ण। यह हल्के-फुल्के और हास्यपूर्ण अंदाज में एक गहरा संदेश दे जाती है।’