राजस्थान का प्ले ऑफ में रॉयल प्रवेश

राजस्थान का प्ले ऑफ में रॉयल प्रवेश

चैम्पियन केकेआर लगभग दौड़ से बाहर 

मुंबई : आईपीएल-8 के एक मैच में राजस्थान रॉयल्स की टीम ने कोलकाता नाइट राइडर्स को नौ रनों से हराकर प्ले ऑफ़ में जगह बना ली है. जबकि कोलकाता की टीम मुश्किल में है और अब कोई चमत्कार ही उन्हें प्ले ऑफ़ में पहुँचा सकता है.

मुंबई के ब्रेबॉर्न स्टेडियम में हुए इस मैच जीत के लिए 199 रनों का पीछा कर रही कोलकाता की टीम नौ विकेट पर 190 रन ही बना सकी. राजस्थान की टीम प्ले ऑफ़ में जगह बनाने वाली दूसरी टीम बन गई है. चेन्नई की टीम पहले ही प्ले ऑफ़ में पहुँच चुकी है.

अगर मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच रविवार को होने वाला मैच बारिश की भेंट चढ़ता है, तभी कोलकाता की टीम रन रेट के आधार पर प्ले ऑफ़ में पहुँच सकती है.कोलकाता ने अपना पहला विकेट गौतम गंभीर के रूप में खोया उन्हें मॉरिश ने 1 रन के निजी स्कोर पर पवेलियन रवाना किया. दूसरा विकेट उथप्पा का गिरा. वे मात्र 14 रन ही बना सके. तीसरा विकेट पांडे का गिरा. वे अपनी टीम में मात्र 21 रन ही जोड़ सके.

इससे पहले शेन वाटसन ने कप्तानी की जिम्मेदारी से मुक्त होने के बाद आज यहां ब्रेबोर्न स्टेडियम में जबर्दस्त बल्लेबाजी का नजारा पेश करके अपने करियर का सर्वोच्च स्कोर बनाया जिससे राजस्थान रायल्स ने कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ आईपीएल आठ के क्वार्टर फाइनल जैसे मुकाबले में आज यहां छह विकेट पर 199 रन का मजबूत स्कोर खडा किया.

वाटसन ने 59 गेंदों पर नाबाद 104 रन बनाये जिसमें नौ चौके और पांच छक्के शामिल हैं. उन्होंने अंजिक्य रहाणे (22 गेंद पर 37 रन) के साथ पहले विकेट के लिये 80 रन जोडकर टास जीतकर पहले बल्लेबाजी के लिये उतरे राजस्थान को अच्छी शुरुआत दिलायी. इसके बाद रायल्स ने नियमित अंतराल में विकेट गंवाये लेकिन वाटसन ने एक छोर संभाले रखा जिससे टीम 200 रन के करीब पहुंच पायी. केकेआर को बीच में वापसी दिलाने में कैरेबियाई आलराउंडर आंद्रे रसेल (32 रन देकर तीन विकेट) ने अहम भूमिका निभायी. उन्होंने तीन ओवरों में तीन विकेट हासिल किये.

रायल्स और केकेआर दोनों के लिये यह मैच क्वार्टर फाइनल जैसा है और इसमें जीत दर्ज करने वाली टीम प्लेआफ में पहुंच जाएगी. रायल्स ने तूफानी शुरुआत की. उसने पहले छह ओवरों में बिना किसी नुकसान के 66 रन बनाये जो इस सत्र में उसका पावरप्ले में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. इस दौरान रहाणो और वाटसन दोनों में एक दूसरे से आगे बढने की स्वस्थ होड देखने को मिली. वाटसन ने अजहर महमूद पर दो चौकों से शुरुआत की तो रहाणो ने मोर्ने मोर्कल की गेंद छह रन के लिये भेजी.

मोर्कल के अगले ओवर में रहाणो ने दो चौके लगाकर टी20 क्रिकेट में 3000 रन पूरे किये. संयोग से इसी ओवर में वाटसन ने भी इस छोटे प्रारुप में 4000 रन का आंकडा पार किया. इस आस्ट्रेलियाई आलराउंडर ने शाकिब अल हसन का स्वागत चौके और छक्के से किया. पावरप्ले के बाद यही सबक रहाणे ने महमूद को सिखाया लेकिन इसी ओवर की आखिरी गेंद पर दूसरा रन लेने की बेताबी के कारण वह रन आउट हो गये. रहाणे ने अपनी पारी में तीन चौके और दो छक्के लगाये. वाटसन एक छोर पर टिके रहे लेकिन कप्तान स्टीवन स्मिथ ( 14 ), संजू सैमसन (आठ) और जेम्स फाकनर (छह ) जल्दी पवेलियन लौट गये. इन तीनों को रसेल ने आउट किया। स्मिथ ने तो उनकी फुलटास पर फाइन लेग पर कैच थमाकर अपना विकेट इनाम में दिया लेकिन वह गेंद की उंचाई को लेकर नोबाल की उम्मीद भी लगाये बैठे रहे.

रसेल ने इस तरह से तीन ओवर में तीन विकेट लेकर टीम को वापसी दिलायी. रायल्स ने इस बीच छह ओवर में केवल 45 रन बनाये. गंभीर का ऐसे समय में महमूद को गेंद सौंपने का फैसला सही नहीं रहा क्योंकि उनके ओवर में 18 रन बने जिसमें वाटसन का छक्का और चौका भी शामिल है. करुण नायर (16) ने उमेश के अगले ओवर में आउट होने से पहले दो चौके लगाये. वाटसन ने इसके बाद मोर्कल पर गगनदायी छक्का लगाया और उमेश यादव की गेंद चार रन के लिये भेजकर अपने टी20 करियर का दूसरा शतक पूरा किया।